राजस्थान सरकार में फिर कलह की आहट, 2 साल पूर्ण होने से पहले टूट सकती है सरकार

Jaipur. राजस्थान के अशोक गहलोत सरकार एक बार फिर से अस्थिर हो सकती है। सरकार को अगले महीने 2 साल पूरे होंगे, उससे पहले सरकार में मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर चर्चा तेज हो गई है।

सचिन पायलट, विश्वेंद्र सिंह और रमेश मीणा को जुलाई के महीने में बर्खास्त कर दिया गया था, लेकिन अभी तक उनकी जगह किसी को भी उनके विभागों की जिम्मेदारी देते हुए मंत्री नहीं बनाए गए हैं, जबकि सरकार के पास करीब 10 लोगों को मंत्री बनाने की गुंजाइश बाकी है।

इस बीच जानकारी में आया है कि सचिन पायलट के द्वारा कांग्रेस आलाकमान को फिर से सरकार में शामिल करने और उनके मंत्रियों को पुनः विभाग बहाल करने की लिए कहा गया है, जिस पर कांग्रेस आलाकमान के द्वारा अशोक गहलोत को निर्देश दिए गए हैं।

बताया जा रहा है कि सचिन पायलट की तरफ से जिन लोगों को मंत्री बनाने के लिए कहा गया है उन पर अशोक गहलोत सरकार राजी नहीं है, यही कारण है कि दोनों नेताओं के बीच एक बार फिर से खींचतान शुरू हो सकती है।

यह भी पढ़ें :  'अली' उनको मुबारक, हमें तो 'बजरंग बली' ही प्यारे हैं-योगी