सौम्या गुर्जर बनीं जयपुर ग्रेटर की पहली महापौर, मुनेश बनीं हैरिटेज की मेयर

जयपुर। राजधानी में दौड़ नगर निगम बनने के बाद पहली बार हुए चुनाव में जयपुर हेरिटेज से जहां कांग्रेस की मुनेश गुर्जर महापौर चुनी गई हैं, तो जयपुर ग्रेटर से भाजपा की सौम्या गुजरने बड़े अंतराल से महापौर बनने में कामयाबी हासिल की है।

जयपुर ग्रेटर में जनता पार्टी के अधिकृत प्रत्याशी सौम्या गुर्जर को 97 मत प्राप्त हुए हैं, जबकि कांग्रेस के द्वारा मैदान में उतारी गई दिव्या सिंह गुर्जर को 53 मतों पर संतोष करना पड़ा है।

दूसरी तरफ जयपुर हेरिटेज में कांग्रेस पार्टी की शहरी सरकार बनी हैं। यहां पर कांग्रेस के अधिकृत प्रत्याशी मुनेश गुर्जर ने 53 मतों के साथ पहली महापौर बनने में सफलता पाई है। यहां भाजपा की उम्मीदवार कुसुम यादव को 44 मत प्राप्त हुए हैं।

गौरतलब है कि वर्तमान कांग्रेस के प्रदेश सरकार के द्वारा जयपुर के दो नगर निगम बनाए गए हैं। इससे पहले हुए चुनाव के वक्त जयपुर में एक नगर निगम था और 91 सीट थीं। अब जयपुर हेरिटेज की 100 और जयपुर ग्रेटर की 150 सीट हो गई हैं।

हालांकि सौम्या गुर्जर की उम्मीदवार बनाए जाने के बाद भारतीय जनता पार्टी में भी उनका काफी विरोध हुआ था। कांग्रेस पार्टी के द्वारा उनके पति राजाराम गुर्जर समेत खुद सो में गुजर पर कई संगीन आरोप लगाए गए थे।

यह भी पढ़ें :  मुख्यमंत्री Ashok gehlot की नहीं चलती राजस्थान सरकार में!