प्रधान पिंकी चौधरी 2 महीने प्रेमी संग रह इसलिए पहले पति के पास लौटी हैं, सामने आई हकीकत!

Barmer. जिले के समदड़ी पंचायत समिति प्रधान पिंकी चौधरी दो महीने तक आशिक अशोक चौधरी, जिसने कथित तौर पर खुद को पिंकी का दूसरा पति होने का दावा कर रहा है, के साथ रहने के बाद पछले दिनों फिर से अपने पहले पति हरचंद चौधरी के पास लौट आई है।

पिंकी चौधरी ने बाड़मेर जिला पुलिस अधीक्षक से मिलकर रिपोर्ट दी है कि अशोक चौधरी द्वारा खेत पर छोड़ने के बहाने अपरहण करने, जयपुर ले जाकर उसके साथ 4 दिन तक दुष्कर्म करने, अश्लील फोटो और वीडियो वायरल करने की धमकी देने, पिंकी के बच्चे को मारने और उसके परिवार को खत्म करने की धमकी देकर परिवार के खिलाफ बयान दिलवाया था।

इसके बाद पिंकी चौधरी ने जिला पुलिस अधीक्षक कार्यालय के बाहर ही पत्रकारों से बात करते हुए बताया कि 19 अगस्त को उसको खेत पर जाते वक्त रास्ते में से अशोक चौधरी नामक लड़का उठा ले गया। वह 4 दिन तक उसके साथ जयपुर में दुष्कर्म किया और उसके अश्लील फोटो और वीडियो कैप्चर कर लिए।

इसके साथ ही उसने बताया कि वह अपने पहले पति हरचंद चौधरी के पास लौटना चाहती है। पिंकी चौधरी के मुताबिक उसके ससुर देवता समान हैं, और 5 लोग मिलकर उनके ससुर की राजनीति खत्म करने के लिए इस तरह के हथकंडे अपना कर साजिश कर रहे हैं।

अब जानकारी में आ रहा है कि क्योंकि पंचायत समिति के चुनाव की तारीख का ऐलान हो चुका है और एक बार फिर से पिंकी चौधरी समदड़ी से पंचायत समिति से प्रधान बनने के सपने देख रही है।

यह भी पढ़ें :  ऋणमाफी का दावा झूठा: राजस्थान में कर्ज से परेशान एक और किसान ने किया सुसाइड

यह भी चर्चा है कि पिंकी चौधरी भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर दोबारा से पंचायत समिति का चुनाव लड़कर प्रधान बन सकती हैं। हालांकि, पिंकी चौधरी को अभी तक भी उसके पुराने पति हरिजन चौधरी ने पूरी तरह से स्वीकार नहीं किया है।

उल्लेखनीय है कि शादी होने के बाद केवल 21 साल की उम्र में पिंकी चौधरी 2015 में भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर समदड़ी पंचायत समिति के प्रधान बनी थी। उसके बाद प्रधान पिंकी चौधरी के 2 बच्चे हुए, जिनमें से बीमारी से एक बच्चे की मृत्यु हो गई थी, एक बच्चा अभी भी जीवित है।