17 C
Jaipur
शनिवार, नवम्बर 28, 2020

विधानसभा सत्र में हिस्सा नहीं ले पा रहे भाजपा अध्यक्ष डॉ सतीश पूनियां, सरकार को हुई सहूलियत

- Advertisement -
- Advertisement -

जयपुर। अब से कुछ ही देर बाद राजस्थान विधानसभा का सत्र शुरू होने वाला है, किंतु भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ सतीश पूनिया विशेष सत्र के पहले दिन विधानसभा सत्र की कार्यवाही में स्वास्थ्य कारणों से शामिल नहीं हो पा रहे हैं।

भाजपा अध्यक्ष के शामिल नहीं होने से एक तरफ जहां नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया और उप नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ पर सरकार से मोर्चा लेने की जिम्मेदारी बढ़ गई है, तो दूसरी तरफ सतीश पूनिया के सदन की कार्रवाई में हिस्सा नहीं लेने के कारण सरकार को भी काफी सहूलियत हो गई है।

- Advertisement -विधानसभा सत्र में हिस्सा नहीं ले पा रहे भाजपा अध्यक्ष डॉ सतीश पूनियां, सरकार को हुई सहूलियत 3

अब से कुछ ही देर पहले डॉ सतीश पूनिया के यहां से बताया गया है कि स्वास्थ्य कारणों के कारण वह विधानसभा सत्र की कार्यवाही में आज हिस्सा नहीं लेंगे। इसके साथ ही जानकारी में आए है कि 10:00 बजे शुरू हुई भाजपा विधायक दल की बैठक में पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने शिरकत की है

भाजपा अध्यक्ष के स्वास्थ्य कारणों की जानकारी मिलने के साथ ही प्रदेशभर में भाजपा के कार्यकर्ताओं में निराशा का माहौल है और कार्यकर्ता अध्यक्ष के जल्द से जल्द स्वस्थ होने की कामना व प्रार्थना कर रहे हैं।

विधानसभा की बात की जाए तो पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के शामिल होने से ऐसा समझा जा रहा है कि भाजपा को सदन में भाजपा अध्यक्ष की कमी नहीं खलनी चाहिए, किंतु हमेशा की भांति अगर वसुंधरा राजे आज भी सदन में नहीं बोलती हैं तो इससे अशोक गहलोत की सरकार को राहत मिलने वाली है।

उल्लेखनीय है कि पिछले महीने ही भाजपा अध्यक्ष को कोरोनावायरस ने अपनी चपेट में ले लिया था। करीब 20 दिन के बाद कोरोनावायरस से ठीक होने के बाद उन्होंने सीधे सरकार के खिलाफ मोर्चा लेते हुए सड़क पर उतरने का फैसला किया था और भाजपा के प्रदर्शन में शामिल हुए थे।

हालांकि, अभी भाजपा अध्यक्ष डॉ सतीश पूनिया को कोरोनावायरस नहीं है, किंतु वायरल की चपेट में आने के कारण उनको बुखार है और इसके चलते वह विधानसभा के इस विशेष सत्र के पहले दिन कार्यवाही में हिस्सा नहीं ले रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि हाल ही में केंद्र के नरेंद्र मोदी सरकार के द्वारा किसानों हितों में तीन कृषि कानून बनाए गए थे, जिनके खिलाफ राज्य की अशोक गहलोत सरकार आज कुछ नए कृषि कानून बनाकर राजनीति खेलने की फिराक में है।

- Advertisement -
विधानसभा सत्र में हिस्सा नहीं ले पा रहे भाजपा अध्यक्ष डॉ सतीश पूनियां, सरकार को हुई सहूलियत 4
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

Bangladesh को Coronavirus की 3 करोड़ Vaccine उपलब्ध कराएगा India

-कोरोना (Corona) से मिलकर लड़ेंगे भारत बांग्‍लादेश नई दिल्ली। वैश्विक महामारी कोरोना (Corona) ने विश्व पटल पर अपनी विनाशकारी...
- Advertisement -

Bangladesh को Coronavirus की 3 करोड़ Vaccine उपलब्ध कराएगा India

-कोरोना (Corona) से मिलकर लड़ेंगे भारत बांग्‍लादेश नई दिल्ली। वैश्विक महामारी कोरोना (Corona) ने विश्व पटल पर अपनी विनाशकारी...

अशोक गहलोत बतायें कि सरकार बचाने के लिए विधायकों को क्या-क्या प्रलोभन दिये: डाॅ. पूनियां

-हर मोर्चे पर विफल साबित हुई गहलोत सरकार अपने बोझ और कर्मों से ही गिरेगी। मुख्यमंत्री गहलोत द्वारा कोरोना प्रबन्धन, अपराधों पर...

राजस्थान के मंत्रियों के सामने “नो मास्क- नो एंट्री” मात्र एक स्लोगन

-भाजपा मुख्य प्रवक्ता रामलाल शर्मा ने सरकार से कोविड-19 में लापरवाही से हो रही मौतों पर अंकुश लगाने की मांग

Related news

Video: 10-10 करोड़ में बिके BTP के विधायक, गहलोत के खास विधायक ने लगाये आरोप

Jaipur. जुलाई और अगस्त के महीने में जब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और तत्कालीन उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट के बीच राजनीतिक युद्ध शुरू...

विश्लेषण: किसानों पर water cannon से बौछार कितनी सही, कितनी खतरनाक?

रामगोपाल जाट केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार (pm narendra modi govt) द्वारा दो माह पहले संसद में पारित किए...

आशादीप बिल्डर की ठगी के शिकार किंग्सकोर्ट निवासी लामबंद हुए

- RERA में ढेरों शिकायतें दर्ज, कुछ कंजूमर कोर्ट की शरण में - बिल्डर को बचाने में जुटे कई रिटायर्ड ब्यूरोक्रेट्स, एक ब्यूरोक्रेट ने...

Love jihaad के खिलाफ अध्यादेश और अयोध्या का हवाईअड्डा भगवान राम के नाम पर

लखनऊ। योगी आदित्यनाथ सरकार (Yogi adityanath) ने लव जिहाद (Love jihaad) के खिलाफ सख्ती करने का कानून बनाने का निर्णय लिया है। योगी कैबिनेट...
- Advertisement -