16 C
Jaipur
रविवार, नवम्बर 1, 2020

फिर छिनी हनुमान बेनीवाल से बोतल, इस बार किसने किया दावा?

- Advertisement -
- Advertisement -

जयपुर। राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (RLP) के संयोजक हनुमान बेनीवाल को चुनाव आयोग ने एक बार फिर से बड़ा झटका दिया है। हनुमान बेनीवाल की राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी का चुनाव चिन्ह चुनाव आयोग (Election commission) ने फ्री लिस्ट में डाल दिया है।

हनुमान बेनीवाल ने इसको लेकर कहा है कि विधानसभा चुनाव के बाद लोकसभा चुनाव के वक्त भी उनकी पार्टी का गुजरात की एक फर्जी पार्टी ने चुनाव चिह्न दिया लिया था, जिसकी जांच चल रही है और उस मामले में अभी तक पड़ताल जारी है।

- Advertisement -satish poonia

उल्लेखनीय है कि दिसंबर 2018 के विधानसभा चुनाव में चुनाव आयोग द्वारा राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी को बोतल का चुनाव चिन्ह अलॉट किया गया था, लेकिन लोकसभा चुनाव 2019 के भक्त उनको टायर के चुनाव चिन्ह पर चुनाव लड़ना पड़ा था।

उन्होंने कहा है कि चुनाव आयोग में बैठे कुछ अधिकारियों ने बड़ी पार्टियों के साथ मिलीभगत करके उनकी चुनाव चिन्ह बोतल को फ्री लिस्ट में डालने की साजिश की है, जिसको लेकर वह खुद चुनाव आयोग से मिलेंगे और इसके साथ ही उन्होंने राजधानी जयपुर और नागौर में भी चुनाव आयोग के समक्ष शिकायत की है।

हनुमान बेनीवाल ने कहा है कि उन्होंने 20 साल तक मेहनत करके वर्तमान पोजीशन पाई है, उनका संघर्ष जारी रहेगा। इसके साथ ही बेनीवाल ने यह भी कहा है कि 2023 के चुनाव में भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस दोनों पार्टियों में से किसी एक पार्टी को तीसरे नंबर पर धकेल दिया जाएगा, राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी दूसरे नंबर पर आएगी।

हनुमान बेनीवाल ने कहा है कि चुनाव आयोग में बैठे हुए ऐसे लापरवाह और साजिश करने वाले लोगों के खिलाफ शिकायत की गई है। इन लोगों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए, जिन्होंने उनकी पार्टी के चुनाव चिन्ह को फ्री लिस्ट में डालने का काम किया है। क्योंकि उनकी पार्टी क्षेत्रीय पार्टी के रूप में रजिस्टर्ड है, उसके बावजूद इस तरह की लापरवाही करना कानूनन अपराध है।

हनुमान बेनीवाल इससे पहले ही कह चुके हैं कि कृषि बिलों में अगर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने संशोधन नहीं किए तो किसानों के हितों को लेकर वह बड़ी रैलियां करेंगे और भाजपा के साथ गठबंधन तोड़ने में 1 मिनट नहीं लगाएंगे।

इसके साथ ही हनुमान बेनीवाल ने एक बार फिर से वसुंधरा राजे और अशोक गहलोत के गठजोड़ की चर्चा करते हुए कहा है कि इन दोनों का गठजोड़ खुलकर सामने आ चुका है, खासतौर से पिछले दिनों से राजनीतिक लड़ाई के दौरान, जब वसुंधरा राजे ने अशोक गहलोत की सरकार बचाई और गहलोत ने नियमों में संशोधन कर वसुंधरा राजे को बंगला जारी रखा।

- Advertisement -
फिर छिनी हनुमान बेनीवाल से बोतल, इस बार किसने किया दावा? 3
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

कांग्रेस ने राम और कृष्ण में किया भेद, भाजपा नेता ने अदालत में पूजास्थल कानून को दी चुनौती

नई दिल्ली, 31 अक्टूबर(आईएएनएस)। कांग्रेस की तत्कालीन सरकार की ओर से वर्ष 1991 में बनाए गए पूजा स्थल कानून को भेदभावपूर्ण और मौलिक अधिकारों...
- Advertisement -

महिलाओं पर गलत टिप्पणी को लेकर मुकेश खन्ना हुए ट्रोल

मुंबई, 31 अक्टूबर (आईएएनएस)। अभिनेता मुकेश खन्ना ने कहा कि ये मी टू की प्रॉब्लेम तब शुरू हुई जब महिलाओं ने घर से बाहर...

मुम्बई सिटी एफसी ने होराम, टोंडोम्बा को अपने साथ जोड़ा

मुम्बई, 31 अक्टूबर (आईएएनएस)। इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) की टीम मुम्बई सिटी एफसी ने मिडफील्डर चान्सो होराम और नोरेम टोंडोम्बा सिंह के साथ करार...

पंजाब : भाजपा नेता ने कृषि कानूनों के खिलाफ पार्टी से इस्तीफा दिया

चंडीगढ़, 31 अक्टूबर (आईएएनएस)। पंजाब भाजपा के युवा महासचिव बरिंदर सिंह संधू ने हाल ही में केंद्र सरकार की ओर से लाए गए कृषि...

Related news

समदड़ी प्रधान Pinky choudhary रहना चाहती हैं अपने पुराने पति के साथ, पर यह है बड़ा संकट

बाड़मेर। जिले के समदड़ी पंचायत समिति के निवर्तमान प्रधान पिंकी चौधरी अपने कथित प्रेमी और वर्तमान पति अशोक चौधरी से 2 महीने...

पिंकी चौधरी 2 महीने पहले धोखा देकर प्रेमी के साथ भागी, अब फिर चाहती है पति का प्यार

बाड़मेर। पंचायत समिति समदड़ी की निवर्तमान प्रधान पिंकी चौधरी 2 महीने पहले पति को धोखा देकर प्रेमी अशोक चौधरी के साथ भाग...

समदड़ी प्रधान पिंकी चौधरी को प्रेमी ने बनाया बंधक, फ़ोटो, वीडियो किये वायरल

बाड़मेर। जिले के समदड़ी पंचायत समिति से निवर्तमान प्रधान पिंकी चौधरी ने अशोक चौधरी नामक एक व्यक्ति, जिसको कथित तौर पर पिंकी...

Pinky Choudhary पहले प्रेमी के साथ भागी, अब अपने पति के साथ जाना चाहती है

बाड़मेर। जिले की समदड़ी पंचायत समिति (Samdadi) प्रधान पिंकी चौधरी (Pinky Choudhary) अपने प्रेमी के साथ भाग गई। उसके साथ शादी कर...
- Advertisement -