अपनी विफलता छुपाने के लिए मीडिया पर हमले करते हैं गहलोत: डॉ. पूनियां

-कांग्रेस सरकार की विफलताओं को उजागर करने के लिए भाजपा जारी करेगी ब्लैक पेपर। ‘‘जीतेंगे जयपुर’’ इस नारे को लक्ष्य बनाकर भाजपा जयपुर के दोनों नगर निगमों में करेगी जीत दर्ज। सपोटरा पुजारी मामले पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का बयान दुर्भाग्यपूर्ण, अपनी नाकामियाँ छुपान के लिए दे रहे ऐसे बयान: डाॅ. पूनियां

जयपुर। अशोक गहलोत सरकार के द्वारा अपने 20 महीने के कार्यकाल के दौरान राजस्थान के कई पत्रकारों के ऊपर मुकदमे दर्ज करवाए गए हैं।

इसको लेकर भाजपा के अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां ने कहा है कि अशोक गहलोत की सरकार 20 महीने के कार्यकाल में पूरी तरह विफल है और सरकार की विफलताओं को जनता के सामने निष्पक्षता से रखने के कारण अशोक गहलोत को पत्रकारों की कार्यशैली खटक रही है, यही कारण है कि अशोक गहलोत की सरकार मीडिया को टारगेट कर रही है।

उन्होंने कहा कि पिछले दिनों जब राजनीतिक युद्ध चल रहा था, तब पत्रकारों ने पूरी शिद्दत के साथ अशोक गहलोत सरकार की तमाम चीजों को जनता के समक्ष रखा। जिसके चलते अशोक गहलोत पत्रकारों से नाराज हैं और मुकदमे दर्ज कराकर डराने, धमकाने का कार्य कर रहे हैं, जिसकी कीमत उनको चुकानी पड़ेगी।

भाजपा प्रेदशाध्यक्ष सोमवार को डाॅ. सतीश पूनियां ने पत्रकारों को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि भाजपा पूरी तैयारी के साथ नगर निकाय चुनाव के लिए तैयार है, जयपुर, जोधपुर एवं कोटा के सभी 6 नगर निगमों में भाजपा कार्यकर्ताओं की मेहनत एवं जनता के समर्थन से प्रचण्ड बहुमत के साथ जीत दर्ज करेगी।

वार्ता में डाॅ. पूनियां के साथ पूर्व प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. अरूण चतुर्वेदी, अशोक परनामी, जयपुर शहर सांसद रामचरण बोहरा, जयपुर शहर अध्यक्ष राघव शर्मा मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें :  Sms Hospital के डॉ. संजय सारण का शोध पत्र इंग्लैंड में प्रकाशित

डाॅ. पूनियां ने कहा कि हाल ही में जोधपुर, कोटा के पदाधिकारियों की बैठक ली और आज जयपुर के वरिष्ठ पदाधिकारियों के साथ निकाय चुनाव को लेकर बैठक की, जिसमें शहरी विकास के विजन डाॅक्यूमेंट, पार्टी की रणनीति सहित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की गई।

‘‘जीतेेंगे जयपुर’’ इस नारे को लक्ष्य बनाकर भाजपा जयपुर के दोनों नगर निगमों में जीत दर्ज करेगी। उन्होंने कहा कि मजबूत व्यूह रचना के साथ भाजपा चुनाव लड़ेगी।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार ने भाजपा सरकारों द्वारा किये गये विकास कार्यों का सिर्फ शिलान्यास किया है, विकास के नाम पर कुछ नहीं किया। पिछले डेढ़ वर्ष में कोई वर्क ऑर्डर नहीं हुआ, जो पिछले वर्क ऑर्डर थे उन्हीं पर कार्य हुए हैं।

डाॅ. पूनियां ने कहा कि भाजपा जयपुर को विश्व स्तरीय शहर बनाने के विकास के वादे को लेकर निकाय चुनाव लड़ने जा रही है और हमें पूरा विश्वास है कि भाजपा बहुत अच्छी जीत दर्ज करेगी।

उन्होंने कहा कि 20 महीने का कांग्रेस सरकार का राज पूरी तरह फेल है। नगर निगमों की स्थितियों में भी सरकार विकास को लेकर विफल साबित हुई।

उन्होंने कहा कि सफाई, बिजली, सड़क, बढ़ते अपराध, बेरोजगारी सहित विभिन्न मुद्दों पर कांग्रेस की गहलोत सरकार से जयपुर सहित जोधपुर एवं कोटा की जनता नाराज है और पूरे प्रदेश का आमजन भी हताश और पेरशान है।

कोरोनाकाल में जयपुर शहर को कांग्रेस सरकार ने भगवान भरोसे छोड़ दिया, जिसको लेकर चाहे अस्पतालों में इलाज की अव्यवस्थाएं, टैस्टिंग, पीपीई किट, वेंटिलेटर, बैडों की कमी इत्यादि विभिन्न मुद्दों को लेकर सरकार पूरी तरह विफल रही है।  

यह भी पढ़ें :  दादा मदेरणा की तरह ही प्रखर वक्ता हैं दिव्या मदेरणा

डाॅ. पूनियां ने कहा कि कांग्रेस पार्टी नगर निकाय चुनाव को लेकर श्वेत-पत्र जारी करने जा रही है, जो बड़ा हास्यास्पद है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार की विफलताओं एवं काली करतूतों को उजागर करने के लिए भाजपा ब्लैक पेपर जारी करेगी, जिसमें बढ़ते अपराध, बेरोजगारी, बच्चियों एवं महिलाओं के साथ दुष्कर्म की घटनाएं, ठप पड़े विकास कार्य सहित विभिन्न मुद्दों को प्रमुखता से उठाया जायेगा।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा सपोटरा पुजारी मामले को लेकर भाजपा पर विद्वेष की राजनीति करने के आरोप लगाने को लेकर पत्रकारों द्वारा पूछे गये सवाल के जवाब में डाॅ. पूनियां ने कहा कि भाजपा जब देश की बात करती है तो कांग्रेस उसे साम्प्रदायिकता कहती है, लेकिन हकीकत यह है कि जातिवाद और साम्प्रदायिकता की राजनीति कांग्रेस शुरूआत से करती आ रही है और अभी भी कर रही है।

मुख्यमंत्री का यह बयान दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने कहा कि राजस्थान शांत प्रदेश है, लेकिन प्रदेश की कानून व्यवस्था सम्भालने में विफल साबित हुए मुख्यमंत्री गहलोत अपनी नाकामियाँ छुपाने के लिए इस तरीके के ध्यान भटकाने वाले बयान दे रहे हैं।