वसुंधरा यूनुस खान पर कार्रवाई नहीं तो टूटेगा भाजपा-रालोपा गठबंधन!

satish poonia hanuman beniwal
satish poonia hanuman beniwal

जयपुर।
नागौर की खींवसर और झुंझुनूं की मंड़ावा सीट पर हुये उपचुनाव के बाद अब भाजपा और रालोपा के गठबंधन पर सवाल खड़े हो गये हैं। नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल ने आरोप लगाया कि पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और पूर्व यातायात मंत्री यूनुस खान ने खींवसर में भाजपा वोटों को कांग्रेस को दिलाने का काम किया है।

https://youtu.be/3SL8M-U-8Gc

उन्होंने कहा कि भाजपा की पूरी टीम को वसुंधरा राजे ने यूनुस खान के द्वारा खींवसर में कांग्रेस के पक्ष में खुलकर प्रचार किया और काम किया है। इसलिये दोनों पर पार्टी को एक्शन लेना चाहिये।

इधर, भाजपा अध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा है कि भाजपा के वोटर्स के कारण ही खींवसर में नारायण बेनीवाल जीते हैं। लेकिन इस बात से इतर हनुमान बेनीवाल ने कहा है कि भाजपा के केवल 35 प्रतिशत वोर्ट ही रालोपा को मिले हैं, बाकी कांग्रेस के लिये डाले गये हैं।

https://youtu.be/ydxn6yUI5eQ

इतना ही नहीं हनुमान बेनीवाल ने कहा है कि अगर भाजपा ने पूर्व सीएम वसुंधरा राजे और पूर्व मंत्री यूनुस खान पर एक्शन नहीं लिया तो आने वाले समय में गठंधन को लेकर सोचा जायेगा।

https://youtu.be/On2Ri90mgGU

दूसरी ओर सतीश पूनिया ने एक सवाल के जवाब में कहा है कि निकाय चुनाव के लिये पहले भाजपा के अन्य पदाधिकारियों से चर्चा करने के बाद विचार किया जायेगा कि रालोपा के साथ गठबंधन किया जाये या नहीं।

आपको याद दिला दें कि हनुमान बेनीवाल ने उपचुनाव से पहले हुये गठबंधन के वक्त कहा था कि निकाय चुनाव में रालोपा नहीं उतरेगी और भाजपा को ही समर्थन देगी। सतीश पूनिया के ताजा बयान के बाद लगता है दोनों में सामंजस्य बनता हुआ नजर नहीं आ रहा है।

यह भी पढ़ें :  श्रम कानून में बदलाव कर श्रमिकों के साथ छलावा करने जा रही है केंद्र व राज्य सरकार

फिलहाल अमित शाह को चिट्ठी लिखी गई है,​ जिसमें बेनीवाल ने कहा है कि वसुंधरा राजे और यूनुस खान पर कार्रवाई की जाये, अगर कार्रवाई नहीं की गई तो गठबंधन पर विचार किया जायेगा, मतलब टूट सकता है।