परिवार को 10 लाख देगी सरकार, बाबू पुजारी के बेटे को सरकारी नौकरी भी, तब हुआ अंतिम संस्कार

करौली। जिले के सपोटरा विधानसभा क्षेत्र के बुकना गांव में बाबु पुजारी की पेट्रोल डालकर हत्या करने के मामले में आज राज्य सरकार की तरफ से परिजनों की एक महत्वपूर्ण मांग को मारने के बाद अंतिम संस्कार कर दिया गया।

राज्य सरकार ने है कि मृतक के परिजनों को 10 लाख रुपए, बेटे को संविदा के आधार पर सरकारी नौकरी, परिवार को प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत घर और पूरी सुरक्षा मुहैया करवाई जाएगी।

परिजनों की तरफ से 50 लाख, बेटे को सरकारी नौकरी, सरकार की समस्त योजनाओं का लाभ, परिवार को पूरी सुरक्षा और सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर कड़ी सजा देने की मांगों को लेकर 1 दिन से परिजन व रिश्तेदार बाबू पुजारी के शव को लेकर धरने पर बैठे हुए थे।

राज्य सरकार की तरफ से आज पुलिस अधीक्षक और जिला कलेक्टर परिजनों के पास पहुंचे और उनके द्वारा की जा रही डिमांड के बारे में चर्चा की। राज्यसभा सांसद किरोडी लाल मीणा भी धरने पर बैठे हुए थे। बातचीत करने के बाद सहमति होने पर मृतक पुजारी का अंतिम संस्कार किया गया।

जानकारी में आया है कि परिजनों को सरकार 1000000 रुपए देगी। साथ ही सुरक्षा मुहैया करवाई जाएगी और सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर कड़ी से कड़ी सजा देने के लिए सरकार अधिवक्ता नियुक्त करेगी।

यह भी पढ़ें :  कोरोनावायरस से संबंधित तैयारियों को लेकर सचिन पायलट टोंक पहुंचे

हालांकि परिजनों की अन्य मांगों को लेकर सहमति नहीं बनी लेकिन राज्यसभा सांसद किरोडी लाल मीणा के द्वारा परिजनों को समझाइश किए जाने के बाद वह मान गए और मृतक पुजारी का अंतिम संस्कार किया गया।