JJS university registrar dr. Nidhi yadav
JJS university registrar dr. Nidhi yadav

झुंझुनू।
शेखावाटी को वैसे तो वीरों की भूमि कहा जाता है। यहां से हर साल हजारों की तादात में वीर हमारे देश की रक्षा के लिए सेना, वायुसेना, नेवी, सीआरपीएफ, सीआईएसएफ, बीएसएफ जैसी सुरक्षा सेवाओं में भर्ती होते हैं। लेकिन इसी शेखावटी को तब शर्मिंदगी का सामना करना पड़ता है, जब प्रो. निधि यादव जैसी जिम्मेदारी अधिकारी चुडैल का रुप धारण कर लेती है।

मामला झुंझुनूं जिले के चुडैला गांव की बहुचर्चित जेजेटी यूनिवर्सिटी का है। शिक्षा के मंदिर कही जाने वाली यूनिवर्सिटी में शिक्षिका प्रो. निधि यादव ने दो युवकों की लाठियों से जमकर पिटाई कर डाली। प्रोफेसर जैसे जिम्मेदार पद पर बैठी अधिकारी ने अपने स्टाफ़ साथ मिलकर दोनों युवकों को जमीन पर पटककर जमकर पीटा, जिसका किसी ने वीडियो बनाकर वायरल कर दिया। इसकी भनक जब पुलिस को लगी, तो सकते में आई। देखिए वीडियो (इस वीडियो के सत्यता की पुष्टि नेशनल दुनिया नहीं करता है)—

सदर थाना प्रभारी सुरेश मय जाप्ते के यूनिवर्सिटी पहुंचे और आरोपी शिक्षकों और युवकों को हिरासत में ले लिया। उनका कहना है कि दो शिक्षकों को पकड़ा गया है, साथ दोनों छात्रों को भी पकड़ा गया है, लेकिन दोनों तरफ से मुकदमा दर्ज नहीं करवाया गया है। थाना प्रभारी के अनुसार जेजेटी यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाले छात्र आनंद चौधरी, जो कि बगड़ का रहने वाला बताया जा रहा है, उसके और एक व्याख्याता के बीच 15 मार्च को किसी बात को लेकर विवाद हो गया था।

छात्र अपने दो परिजनों अमन और सुरेश, जो कि रिश्ते में उसके भाई लगते हैं को लेकर सोमवार दोपहर व्याख्याता की शिकायत करने यूनिवर्सिटी प्रबंधक के पास गया था। लेकिन पीड़ित छात्र आनंद चौधरी की शिकायत सुनने की बजाए प्रबंधक और मुख्य आरोपी डॉ. निधि यादव ने छात्र को पीटना शुरू कर दिया। छात्र तो अपनी जान बचाकर वहां से भागने में सफल हो गया, लेकिन परिजन 2 युवकों को यूनिवर्सिटी के बाहर बस स्टैंड से फिल्मी स्टाईल से गाड़ी में डालकर संस्थान परिसर में ले गए।

Video: झुंझुनूं के जेजेटी यूनिवर्सिटी में चुड़ैल बनी प्रोफेसर 1

पीड़ितों का आरोप है कि वहां तैनात डॉ. निधि यादव और उसके साथ पांच अन्य स्टाफ के लोगों ने उनको फर्श पर पटक कर बुरी तरह से पीटा। डॉ. निधि यादव बकायदा वीडियो में लठ बरसाती नजर आ रही है। पिटाई के दौरान दोनों युवक बुरी तरह से जख्मी हो गए। मारपीट के कारण एक युवक के सिर में गहरी चोट लगी है और दूसरे की नाक की हड्डी टूट गई है।

लाठी से मारपीट करने के दौरान एक शिक्षक के मामूली चोट आई है। गौरतलब है कि कानून को ठेंगा दिखाने वाले यूनिवर्सिटी प्रबंधन धनबल के आधार पर मामले को दबाने में लगा है। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक डॉ. निधि यादव एक पूर्व भाजपा मंत्री की करीबी है, जिसके चलते उसपर कोई कार्रवाई नहीं हो रही है।

Video: झुंझुनूं के जेजेटी यूनिवर्सिटी में चुड़ैल बनी प्रोफेसर 2

यह भी कहा जा रहा है कि यूनिवर्सिटी द्वारा स्थानीय अखबारों को विज्ञापन देकर मामले को दवाब की कोशिश कर रही है। बताया तो यहां तक जा रहा है कि पूर्व मंत्री ने डॉ. निधि को बचाने के लिए अपनी पूरी ताकत लगा रखी है। यहां तक कि पिटे हुए युयकों को धमकियां भी दी जा रही हैं।

अधिक खबरों के लिए हमारी वेबसाइट www.nationaldunia.com पर विजिट करें। Facebook,Twitter पे फॉलो करें।