29 C
Jaipur
शनिवार, जुलाई 4, 2020

भारत की नरेंद्र मोदी सरकार नेपाल की केपी ओली सरकार को गिराना चाहती है

- Advertisement -
- Advertisement -

नेपाल के प्रधानमंत्री केपी ओली ने हाथ से छूट रही सत्ता के लिए भारत पर भड़ास निकालनी शुरू कर दी है।

ओली ने कहा है कि उनकी कुर्सी छीनने के लिए नई दिल्ली और काठमांडू में साजिश चल रही है। उन्होंने इसके लिए नक्शा विवाद को वजह बताया है।

काठमांडू पोस्ट के मुताबिक नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी में अल्पमत में आ चुके केपी ने रविवार को एक कार्यक्रम में कहा देश का नया नक्शा जारी करने और संसद से इसे पास कराने की वजह से मेरे खिलाफ साजिश रची जा रही है।

बुद्धिजीवियों की चर्चा, नई दिल्ली से मीडिया रिपोर्ट्स, दूतावास की गतिविधियों और काठमांडू के अलग-अलग होटलों में चल रही बैठकों से यह समझना मुश्किल नहीं है कि किस तरह से लोग मुझे हटाने के लिए खुलकर एक्टिव हैं।

लेकिन असल मामला यह है कि चीन के इशारे पर भारत के साथ कटुता का व्यवहार करना ही प्रधानमंत्री ओली पर भारी पड़ गया है। समर्थक दल सरकार से हाथ खींचने लगे हैं और भारत के साथ नक्शा विवाह छेड़ने का पूरे देश में ही सरकार के खिलाफ विरोध हो रहा है।

कम्युनिस्ट पार्टी के अधिकतर नेता ओली के तानाशाही रवैए से नाराज हैं। प्रचंड ने तो इशारों में यहां तक कहा था कि पाकिस्तान की तरह ओली भी सेना की मदद से सरकार चलाना चाहते हैं, लेकिन यह नेपाल में संभव नहीं है।

प्रधानमंत्री ओली की सरकार शुरुआत से ही विवादों में रही है। जनता ने अपने खिलाफ बढ़ रहे आक्रोश और विपक्ष के हमलावर रुख को कुंद करने के लिए केपी ने नए नक्शे का मुद्दा उछाला है।

उन्होंने भारतीय क्षेत्रों कालापानी, लिपुलेख और लिम्पियधुरा को नए नक्शे में शामिल कर लिया है और इस मुद्दे पर सभी पार्टियों को साथ लाने में सफल रहे हैं।

लेकिन इसके बाद फिर कोविड-19 से निपटने के इंतजाम में विफलता को लेकर उनकी पार्टी के दूसरे अध्यक्ष पुष्प कमल दहल उर्फ प्रचंड ने उन्हें उनके खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।

ओली ने कहा यदि कोई सोचता है कि मुझे गिरा सकता है तो मैं उसे बताना चाहूंगा कि हमारी राष्ट्रीय एकता इतनी कमजोर नहीं है। यह भी कहा कि उन्हें निकाल दिया जाता है तो हर कोई देश के लिए आवाज उठाएगा।

पार्टी की बैठकों में भाग लेने से भाग रहे ओली ने कहा मैं लंबे समय तक प्रधानमंत्री नहीं रहूंगा, लेकिन यदि मैं आज छोड़ देता हूं तो कोई ऐसा नहीं होगा जो देश के लिए नहीं बोलेगा।

मुझे देश का प्रधानमंत्री बने रहना है, अपने लिए नहीं देश के लिए और आज के लिए नहीं बल्कि कल के लिए।

ओली ने पार्टी के विरोध विरोधी खेमे पर तंज कसते हुए कहा नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी और उसकी संसदीय समिति किसी के बहकावे नहीं आती है।

- Advertisement -
भारत की नरेंद्र मोदी सरकार नेपाल की केपी ओली सरकार को गिराना चाहती है 2
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

रेलवे निजीकरण के विरोध में युवा कांग्रेस ने कमीज उतारकर प्रदर्शन किया

नई दिल्ली, 3 जुलाई (आईएएनएस)। कांग्रेस की युवा इकाई ने चुनिंदा रेल मार्गो पर ट्रेन चलाने के लिए निजी इकाइयों को अनुमति दिए जाने...
- Advertisement -

भारत-चीन के बीच युद्ध तय है?

नई दिल्ली भारत और चीन के बीच लद्दाख में तनाव चरम पर है। दोनों देशों के द्वारा एक दूसरे...

सरोज खान ने कोरियोग्राफर्स के लिए स्वर्ण मानक तय किया: टेरेंस लुईस

मुंबई, 4 जुलाई (आईएएनएस) लोकप्रिय कोरियोग्राफर टेरेंस लुईस ने दिवंगत कोरियोग्राफर सरोज खान के लिए कहा कि वह एक लौह महिला थी, जिन्हें डर...

स्क्रीन पर नकारात्मक किरदार को यकीन करने लायक बनाना मुश्किल : नमित दास

मुंबई, 3 जुलाई (आईएएनएस)। अभिनेता नमित दास आर्या में एक ग्रे शेड्स का किरदार निभा रहे हैं। उनका कहना है कि पर्दे पर किसी...

Related news

3 माह से वेतन नहीं, सैंकड़ों कर्मचारियों की कोरोनाकाल में भूखे मरने की नौबत आई

-वेतन नहीं मिला तो कर्मचारी पहुंचे न्यायालय की शरणजयपुर। कोरोना संक्रमण काल के दौरान भी काम कर रहे...

2 साल 2 माह के मुख्य सचिव डीबी गुप्ता को राजस्थान सरकार ने आधी रात क्यों हटाया?

जयपुर राजस्थान सरकार ने गुरुवार आधी रात राज्य की ब्यूरोक्रेसी में बड़ा बदलाव करते हुए भारतीय प्रशासनिक सेवा के...

मोदी चीन के फ्रंट पर, इधर डॉ. पूनियां कोरोना वॉरियर के फ्रंट पर पहुंचे

जयपुर ऐसा लग रहा है जैसे 24 में 18 घन्टे काम कर दुनिया को चौंकाने वाले नरेंद्र मोदी की...

वसुंधरा से दूरियां, डॉ. सतीश पूनियां से नजदीकियां, आखिर क्या मंत्र है राठौड़ का?

जयपुर।राजस्थान विधानसभा में उप नेता प्रतिपक्ष और पिछली वसुंधरा राजे सरकार में पंचायती राज मंत्री रहे चूरू के विधायक राजेंद्र सिंह राठौड़...
- Advertisement -