फरवरी-मार्च में फिर पार्टी अध्यक्ष बनेंगे राहुल गांधी, अशोक गहलोत और सचिन पायलट को इस बात की जानकारी है!

rahul gandhi sachin pilot ashok gehlot (file photo)
rahul gandhi sachin pilot ashok gehlot (file photo)

jaipur news

जयपुर।
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और वायनाड से सांसद राहुल गांधी को इसी साल की फरवरी या मार्च माह में फिर से अध्यक्ष की गद्दी सौंप दी जाएगी। अभी इस सीट पर उनकी मां सोनिया गांधी कार्यकारी अध्यक्ष के तौर पर बैठीं हैं।

कांग्रेस सूत्रों का दावा है कि राजस्थान के कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट और प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को इस बात की जानकारी है। इसलिए दोनों नेता राहुल गांधी के अधिक से अधिक नजदीक जाना चाहते हैं।

जयपुर में मंगलवार को हुई युवा आक्रोश रैली में दोनों नेता राहुल गांधी की नजर में नंबर वन बनने की जी तोड़ कोशिश करते हुए दिखाई दिए। इसके साथ ही युवा नेतृत्व के तौर पर जहां अशोक चांदना, मुकेश भाकर और सुमित भगासरा ने भी पूरी ताकत झौंक दी, तो दूसरी तरफ जयपुर शहर अध्यक्ष के तौर पर प्रताप सिंह खाचरिवास के बसों पर चिपके पोस्टर अलग ही कहानी बयां कर रहे थे।

सूत्रों के अनुसार फरवरी या मार्च में कांग्रेस का राष्ट्रीय अधिवेशन राजस्थान के किसी दक्षिणी जिले में आयोजित किए जाने की संभावना है। इसके लिए डूंगरगढ़ या बांसवाड़ा जैसे आदिवासी बहूल जिलों में से किसी को चुनाव किया जा सकता है।

इसके साथ ही संभाग होने के कारण उदयपुर को भी चुना जा सकता है। इस अधिवेशन में ठीक वैसे ही राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष बनाए जाने का प्रस्ताव पास किया जा सकता है, जैसे 2009 में जयपुर के राष्ट्रीय अधिवेशन के दौरान पार्टी ने उपाध्यक्ष चुना था।

कहा जा रहा है कि लोकसभा चुनाव के बाद जब राहुल गांधी ने इस्तीफा दिया था, तभी से उनको फिर से अध्यक्ष की कुर्सी पर बिठाने के लिए प्रयास जारी हैं। राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाए जाने से जहां सचिन पायलट को फायदा होगा, वहीं अशोक गहलोत के लिए सीएम की कुर्सी बचाए रख पाना मुश्किल हो जाएगा।

यह भी पढ़ें :  सचिन पायलट बनेंगे मुख्यमंत्री, रामेश्वर डूडी होंगे कांग्रेस अध्यक्ष! गहलोत जाएंगे दिल्ली