कांग्रेस नेता Ahamad Patel का रात 3:30 बजे निधन, 20 साल से सोनिया गांधी के करीबी रहे

नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद अहमद पटेल आज बीती रात अलसुबह 3:30 बजे निधन (Ahmed Patel Passes Away) हो गया। पटेल bharat के वरिष्ठ सदन राज्यसभा के सदस्य और भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हैं। वह पिछली महीने के शुरुआत से कोरोना पीड़ित थे और गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती थे।

वह 2001 से कांग्रेस की अध्यक्ष सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार थे। 2004 और 2009 में हुए स्थानीय चुनाव में पार्टी के प्रदर्शन का श्रेय भी काफी हद तक इन्हें ही दिया जाता है। पटेल ने अपनी राजनीतिक सफर की शुरुआत नगरपालिका के चुनाव से की थी, जिसके बाद आगे पंचायत के सभापति भी बन गए।

बाद में इन्होंने कांग्रेस पार्टी में प्रवेश किया और उसके बाद राज्य कांग्रेस के अध्यक्ष बन गए।  इन्दिरा गांधी के आपातकाल के बाद 1977 में आम चुनाव हुए थे, जिसमें इन्दिरा गांधी की हार हुई थी। इसी चुनाव में इनकी जीत हुई और पहली बार पहली बार लोकसभा में आए थे।

पटेल तीन बार लोकसभा सभा सांसद (1977, 1980, 1984) और पांच बार राज्यसभा सांसद (1993, 1999, 2005, 2011, 2017 निवर्तमान) रहे हैं। अहमद पटेल की शादी 1976 में मेमूना अहमद से हुई। इन दोनों के दो संतानों में एक बेटा और एक बेटी है। पटेल वैसे मीडिया के सामने बहुत ही कम बार ही आते थे।

इन्हें गांधी-नेहरू परिवार के काफी करीब का माना जाता था। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल (Ahmed Patel Passes Away) का देहांत 25 नवम्बर 2020, बुधवार सुबह 3 बजकर 30 मिनट पर हो गया। अहमद पटेल को तकरीबन एक महीने पहले कोरोना (Coronavirus Latest News in India) हुआ था। इसके बाद उनका स्वास्थ्य काफी बिगड़ गया था। इस दौरान अहमद पटेल के कई अंगों ने भी काम करना बंद कर दिया था।

यह भी पढ़ें :  सीबीआई जांच के बहाने रालोपा ने दिखाई अपनी पुरानी ताकत