पत्रकारों की सुरक्षा के लिए प्रदेश में एडवाइजरी जारी
– समस्त एसपी को डीजीपी ने दिए निर्देश
– पिंक सिटी प्रेस क्लब, जार, श्रमजीवी और आईएफडब्ल्यूजे की ओर से पत्रकार सुरक्षा कानून को लेकर दिया गया ज्ञापन।

Jaipur किसी भी पत्रकार के साथ कवरेज के दौरान पुलिकर्मियों के द्वारा मारपीट या कवरेज करने से रोका गया तो ऐसे पुलिसकर्मी पर सख्त कार्रवाई होगी।

इस मामले को लेकर पत्रकारों का एक प्रतिनिधिमंडल शुक्रवार को सुबह 11:00 बजे प्रदेश के पुलिस मुखिया डीजीपी भूपेंद्र सिंह यादव से मिला।

डीजीपी यादव ने पत्रकारों की सुरक्षा के लिए समस्त जिलों के एसपी समेत उच्च अधिकारियों को एक एडवाइजरी जारी करने के निर्देश दिए हैं।

दैनिक भास्कर के वरिष्ठ फोटोजर्नलिस्ट अनिल शर्मा के साथ पुलिस जीप में मारपीट करने वाले सभी पुलिसकर्मियों को चिन्हित कर निलंबित करने की कार्रवाई शुरू कर दी है।

डीजीपी ने प्रतिनिधिमंडल को आश्वासन दिया कि अब पूरे प्रदेश में पत्रकारों की सुरक्षा का जिम्मा उनका होगा। कोई भी पुलिसकर्मी उनके साथ मारपीट नहीं कर सकता।

डीजीपी ने निर्देश जारी किए कि पत्रकार और पुलिस एक आईने के दो प्रतिबिंब है, जिनको साथ-साथ रहकर काम करना चाहिए।

गौरतलब है कि प्रदेश में पत्रकारों के साथ पुलिस के द्वारा की जा रही मारपीट की घटनाओं में लगातार इजाफा हो रहा है। इसके बाद पत्रकारों में सुरक्षा की भावना प्राप्त होती जा रही है।

एक और उल्लेखनीय बात यह है कि राजस्थान में कांग्रेस पार्टी की सरकार बनने से पहले पार्टी ने वादा किया था कि अगर सरकार बनती है, तो पत्रकारों के लिए पत्रकार सुरक्षा कानून बनाया जाएगा, जो 9 महीने बाद भी अमल में नहीं लाया गया है।

एक दिन पहले ही जयपुर के खोनागोरियां क्षेत्र में एक व्यक्ति के द्वारा अखबार के द्वारा पैसे मांगने के बाद उसकी कुल्हाड़ी से हत्या कर दी गई थी।

इस घटना को कवरेज करने गए दैनिक भास्कर के फोटोजर्नलिस्ट अनिल शर्मा के साथ पुलिस कर्मियों ने मारपीट की थी।

प्रतिनिधिमंडल में प्रेस क्लब के पूर्व अध्यक्ष वीरेंद्र सिंह राठौड़, प्रेस क्लब उपाध्यक्ष बबीता शर्मा देवेंद्र सिंह, श्रमजीवी के प्रदेश अध्यक्ष हरीश गुप्ता, प्रेस क्लब के कोषाध्यक्ष रघुवीर जांगिड़, प्रेस क्लब के पूर्व महासचिव मुकेश मीणा उपस्थित रहे।

साथ ही जार के प्रदेश महामंत्री संजय सैनी, प्रेस क्लब के कार्यकारिणी सदस्य पुष्पेंद्र सिंह राजावत, अनीता शर्मा, दिनेश कुमार अधिकारी, पूर्व कार्यकारणी सदस्य रामेंद्र सिंह सोलंकी, फोटोजर्नलिस्ट सुनील शर्मा, पंकज शर्मा, दिनेश डाबी, रेखराज चौहान, सुनील त्रिवेदी, मतीश पारीक आदि पत्रकार उपस्थित थे।