राजदरबारी और रागदरबारी हैं कांग्रेस नेता…

7
nationaldunia
- नेशनल दुनिया पर विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें 9828999333-
dr. rajvendra chaudhary jaipur-hospital

-पीएम मोदी ने जाति-धर्म के नाम पर कांग्रेस पर किए जबरदस्त हमले

जयपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पार्टी पर राजदबारी, रागदरबारी और नामदार के शब्दजाल से सियासी हमले किए। मोदी ने कांग्रेस नेताओं पर न केवल जाति और धर्म के नाम पर हमले किए, बल्कि अपने चार साल में किए गए अपने कार्यों का भी हिसाब दिया।

भीलवाड़ा में पानी की मांग को लेकर स्थानीय नब्ज पर भी हाथ रखा। मोदी ने सर्जिकल स्ट्राक, संविधान, मुंबई हमले समेत सभी समसामयिक मुद्दों पर कांग्रेस को जमकर घेरा।

मोदी ने कहा कि मैं नामदार नहीं हूं, मैं कामदार हूं और मेरे पीछे सवा सौ करोड़ हिंदुस्तानी हैं। मोदी ने राजस्थान को वैभव, विरासत, विकास की धरती कहा। उन्होंने बार-बार राजदरबारी और रागदरबारी बोलकर सीपी जोशी, अशोक गहलोत, सचिन पायलट और बीडी कल्ला पर परोक्ष तौर पर हमले किए।

सर्जिकल स्ट्राक पर बोलते हुए मोदी ने कहा कि सेना जहां प्राक्रम कर रही थी, पाकिस्तान के घर में घुसकर मार रहे थे, तभी कांग्रेस सेना पर सवाल उठा रही है। मोदी ने आतंकवाद और नक्सलवाद को लेकर भी कांग्रेस पर क्रांतिकारी कहने के बयान पर हमला बोला।

मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत में भीलवाड़ा और राजस्थान की जनता को वीरों की धरती कहकर राणा प्रताप का साथ देने का भी जिक्र किया। मोदी ने राजस्थान में 36 हजार किलोमीटर सड़कें बनाने का दावा किया।

मोदी ने कहा कि राजस्थानी याचना करने वाले नहीं हैं, बल्कि आंख में आंख मिलाकर बात करने वाला नौजवान है। अब तक प्रधानमंत्री मुद्रा योजना में 14 करोड़ लोन स्वीकृत किए हैं। इनमें से 70 प्रतिशत लोग पहली बार लोन लेने वाले हैं। इससे 14 करोड़ लोगों ने खुद का रोजगार शुरू किया है।

अकेले राजस्थान में 50 लाख लोगों ने मुद्रा योजना का लाभ लिया है। मोदी ने पांच साल फिर से सेवा करने का मौका देने को कहा।

उन्होंने कहा कि एक बार फिर वसुंधरा राजे और भाजपा की सरकार बनाने की अपील की। मोदी ने अंत में फिर से भारत माता की जय बोलकर परोक्ष रुप से कांग्रेस पर कटाक्ष किए।

मोदी ने संविधान दिवस का जिक्र करते हुए भीमराव अम्बेड़कर को नमन किया, तो साथ ही साथ इस दिन को दलित, पीडित और शोषितों का दिवस बताया।

मोदी ने कहा कि अम्बेडकर जैसे विद्वानों ने मिलकर देश को संविधान दिया, जिसके चलते आज देश में दलित, शोषित और पीडित को न्याय मिल पाया है। मोदी ने कांग्रेस से चार पीढ़ियों का हिसाब मांगा, वहीं खुद के चार साल में किए गए कार्यों का भी जिक्र किया।

उन्होंने उज्जवला योजना, मुद्रा लोन और बैंक खातों के आंकड़ों के साथ कांग्रेस पर हमला किया।