राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ में हारने पर इस ब्रांड पर लगेगा बट्टा!

85
- नेशनल दुनिया पर विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें 9828999333-
dr. rajvendra chaudhary jaipur-hospital

नई दिल्ली।

राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, मिजोरम और तेलंगाना में 11 दिसंबर को मतगणना की जाएगी। इन चुनाव में नए केवल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और इन पांचों राज्यों के मुख्यमंत्रियों की इज्जत दांव पर है, बल्कि इन चुनावों के परिणाम ही 2019 में होने वाले आम चुनाव पर सीधा असर डालेंगे।

वर्तमान में राजस्थान, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में भारतीय जनता पार्टी की सरकार है, जबकि तेलंगाना चंद्रशेखर राव की सरकार है। मिजोरम में इस बार सरकार बदलने की संभावना जताई जा रही है।

टीवी चैनल्स के एग्जिट पोल में राजस्थान में कांग्रेस पार्टी को बहुमत मिलने की संभावना जताई गई है, जबकि मध्य प्रदेश में कांग्रेस और भाजपा में कड़ा मुकाबला है। छत्तीसगढ़ एक बार फिर से बीजेपी के पाले में आता दिखाई दे रहा है।

तेलंगाना में चंद्रशेखर राव की सरकार रिपीट होती नजर आ रही है, जबकि कांग्रेस पार्टी मुकाबला कर रही है। भारतीय जनता पार्टी तीसरे स्थान पर दिखाई दे रही है।

अगर राजस्थान और मध्य प्रदेश भारतीय जनता पार्टी के हाथी चले जाते हैं, तो अप्रैल-मई 2019 में होने वाले आम चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा प्रधानमंत्री बनने के सपने पर अल्पविराम, यानी झटका लग जाएगा।

2013-14 से शुरू हुआ नरेंद्र मोदी नामक ब्रांड इन्हीं राज्यों के चुनाव परिणाम पर टिका हुआ है। अगर राजस्थान और मध्य प्रदेश दोनों ही जगह कांग्रेस पार्टी का शासन आता है, तो नरेंद्र मोदी नामक इस ब्रांड को बड़ा धक्का लगेगा, जो 2019 में केंद्र में एक बार फिर से भारतीय जनता पार्टी के शासन के सपने पर भी रुकावट आ जाएगी।