जयपुर।

राजस्थान कांग्रेस इकाई के प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट ने आज बड़ा ऐलान करते हुए कहा है कि ने तो वह खुद लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे और ना ही किसी मौजूदा विधायक को चुनाव लड़ने की अनुमति दी जाएगी।

सचिन पायलट ने कहा कि लोकसभा चुनाव की तैयारियों को मद्देनजर रखते हुए 14 फरवरी को अजमेर में कांग्रेस सेवादल का अधिवेशन होगा, जिसमें राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी भी भाग लेंगे।

उन्होंने लोकसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर कांग्रेस की बैठक के बाद कहा कि बैठक में यह फैसला हुआ है कि न तो मैं लोकसभा चुनाव लड़ूंगा और ना ही कोई वर्तमान विधायक चुनाव लड़ेगा।

पायलट ने कहा कि राजस्थान लोकसभा चुनाव को लेकर मीटिंग हुई, जिसमें तैयारियों को लेकर गहन मंथन किया गया, क्योंकि लोकसभा चुनाव अब गिनती के दिन रह गए हैं।

उप मुख्यमंत्री पायलट ने बताया कि 2014 में भले बीजेपी 25 सीट जीत गई हो, लेकिन उसके बाद के उपचुनाव हारी और हाल ही में भाजपा विधानसभा चुनाव हारी है।पायलट ने दावा किया है कि माहौल बदला है, लोगों को लगने लगा है कि बीजेपी द्वारा बेवकूफ बनाया गया है।

दरअसल, उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट, कैबिनेट मंत्री लालचंद कटारिया समेत कई मौजूदा विधायकों और मंत्रियों के कई दिनों से लोकसभा चुनाव लड़ाने की चर्चा हो रही थी, जिस पर आज कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष ने पूर्ण विराम लगा दिया।

अधिक खबरों के लिए हमारी वेबसाइट www.nationaldunia.com पर विजिट करें। Facebook,Twitter पे फॉलो करें।