8913 पदों पर नर्सिंग भर्ती के बाद 1600 पदों पर 2018 वाली पुलिस भर्ती की मांग ने पकड़ी रफ्तार

नेशनल दुनिया

कोविड-19 की वैश्विक महामारी के चलते राजस्थान सरकार ने एक दिन पहले ही राज्य में 8913 पदों पर जीएनएम और एएनएम भर्ती के लिए वरीयता सूची जारी कर दी है। राज्य सरकार चाहती है कि प्रदेश के अस्पतालों में नर्सिंग कर्मियों की कमी नहीं रहे।

img 20200429 wa00341236849652047880708
पत्रकार मनीष शुक्ला द्वारा ट्वीट किया गया। जिस पर 16 सौ से अधिक लोगों ने प्रतिक्रिया दी है।

नर्सिंग भर्ती की घोषणा के साथ ही राजस्थान में 2018 की 1600 पदों की पुलिस भर्ती की मांग भी तेज होने लगी है। सोशल मीडिया पर पुलिस भर्ती की परीक्षा दे चुके युवा वरीयता सूची जारी कर जल्द से जल्द नौकरी देने की मांग कर रहे हैं।

img 20200429 wa00366360240537704231810
टोंक जिले के देवली उनियारा से विधायक हरीश मीणा ने लिखा है यह पत्र।

इस मामले को लेकर सोशल मीडिया पर जहां युवा सीधे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट को लिखकर पुलिस भर्ती की वरीयता सूची जारी करने की मांग कर रहे हैं, तो दूसरी तरफ कांग्रेस पार्टी के विधायक हरीश मीणा ने सरकार को पत्र लिखकर वरीयता सूची जारी करने की अपील की है।

img 20200429 wa00374124773945978423485
पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह का पत्र।

इस प्रकरण को लेकर राजस्थान के पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह ने भी सरकार को पत्र लिखकर 2018 से अटकी पड़ी 1600 पदों की पुलिस भर्ती को जल्द से जल्द निपटाने और कोविड-19 के चलते लॉक डाउन की पालना के लिए युवाओं को ड्यूटी देने की मांग की है।

इसके साथ ही कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी के 23 से अधिक विधायकों ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पत्र लिखें हैं। जिसमें कहा गया है कि पुलिस भर्ती की प्रक्रिया को पूरा करके रिक्त पदों को भरा जाए ताकि सुरक्षा पुख्ता की जा सके।

यह भी पढ़ें :  बेनीवाल दिल्ली में भरेंगे हुंकार, लोकसभा की 25 सीटों पर लड़ेंगे चुनाव-