Video: सचिन पायलट के बंगले पर लड़कियों से बदसलूकी

Nationaldunia

जयपुर। उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट के बंगले पर प्रदर्शन कर रही युवतियों के साथ उनके समर्थकों के द्वारा बदसलूकी करने का मामला सामने आया है। पत्रकारों से बात करते हुए पीड़ित युवतियां रो पड़ीं

आरोप है कि सुबह से ही सचिन पायलट के जालूपुरा स्थित निवास के बाहर धरने पर बैठी युवतियों को हटाने के लिए सचिन पायलट के समर्थकों ने लड़कियों के साथ धक्का-मुक्की की और अपशब्द भी बोले।
मौके पर बैठी हुई लड़कियों ने आरोप लगाया है कि सचिन पायलट के समर्थकों ने ना केवल उनके साथ धक्का-मुक्की की बल्कि उनको अपशब्द भी कहे और वहां से भगाने का प्रयास भी किया। युवतियां इस बात को लेकर काफी आक्रोशित हैं।

नई सरकार के गठन के बाद से प्रदेश के युवाओं को नई आस जगी है। इसी का परिणाम है कि आए दिन युवा विभिन्न नौकरियों को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट के पास अपनी मांगों को लेकर पहुंच रहे हैं। अब तक तीन मौके आए हैं, जब प्रदेश के युवा बेरोजगार उम्मीदों के साथ पायलट के दर पर पहुंचे हैं।

आज सुबह भी राजस्थान नर्सिंग भर्ती-2018 संघर्ष समिति के सैकड़ों युवाओं और युवतियों ने सचिन पायलट के जालूपुरा स्थिति आवास पर धरना दे दिया।

समिति के संयोजक पवन कुमार ने बताया कि जुलाई 2018 में हुई इस भर्ती के तहत सलेक्टेड 6587 नर्सिंग के अनुभव प्रमाण पत्र जांचने के बावजूद उनको नियमित नहीं किया गया है, जबकि चुनाव से पहले खुद कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष के तौर पर सचिन पायलट ने वादा किया था कि सत्ता में आते ही सभी को नियमित किया जाएगा।

यह भी पढ़ें :  दिल्ली चुनाव : भाजपा उम्मीदवारों की हुई स्क्रीनिंग

उन्होंने बताया कि प्रदेशभर से आए हुए युवाओं को कांग्रेस की सरकार और सचिन पायलट से काफी उम्मीदें हैं, लेकिन जिस तरह से एक माह से ज्यादा का समय गुजर चुका है, उससे उम्मीदें टूट रही हैं। खबर लिखे जाने तक पायलट ने नर्सिंगकर्मियों से मुलाकात नहीं की, और सभी धरने पर डटे हुए हैं।