भाजपा का दावा: राजस्थान में 44 लाख लोगों को मिलीं नौकरियां

bjp twitter accounts image

-भाजपा के आॅफिसियल ट्वीटर पेज पर किया ट्वीट, जबकि अमित शाह ने बताई थी 26 लाख, वसुंधरा राजे ने बताई 26 लाख और मदनलाल सैनी ने बताई है 35 लाख नौकरियां

जयपुर। भारतीय जनता पार्टी ने ने दावा किया है कि प्रदेश में पांच साल के दौरान पार्टी ने 44 लाख लोगों की नौकरियां दी हैं। पार्टी ने अपनी सरकार की उपलब्धियों के बीच यह दावा किया है। बीजेपी ने अपने ट्वीटर हैंडल पर यह जानकारी साझा की है। इसके साथ में वसुंधरा राजे को भी टैग किया गया है।

इस ट्वीट के बाद भाजपा के दावों पर सवाल उठ रहे हैं। आपको बता दें कि बीते दिनों भाजपा के अध्यक्ष अमित शाह ने बिडला सभागार में आयोजित शक्ति केंद्रों के सम्मेलन में दावा किया था प्रदेश सरकार ने 26 लाख नौकरियां दी हैं।

इसी तरह का बयान सीएम राजे ने दिया था, जबकि इससे भी आगे बढ़कर पिछले दिनों प्रदेशाध्यक्ष मदनलाल सैनी ने कहा था कि राजस्थान सरकार ने बीते पांच साल में 35 लाख युवाओं को नौकरी दी है। हालांकि, उन्होंने केवल सरकारी नौकरी की बात नहीं की थी।

20181110 1308347728055533367095419

सैनी ने कहा था कि कौशल विकास के बाद रोजगार का आंकड़ा 35 लाख पर पहुंच गया है। जबकि सरकारी आंकड़ों के मुताबिक करीब 2.70 लाख युवाओं को पांच साल में सरकारी नौकरी मिली है।

गौरतलब है कि बीजेपी ने साल 2013 में अपने घोषणा पत्र में वादा किया था कि पांच साल के दौरान प्रदेश के 15 लाख युवाओं को नौकरी दी जाएगी। इस ट्वीट के बाद ट्वीटर पर बीजेपी की जोरदार खिंचाई हो रही है।

यह भी पढ़ें :  सचिन पायलट ने विधायक मलिंगा को 35 करोड़ का ऑफर दिया था!

भाजपा के इस ट्वीट के बाद रिट्वीट करने वालों की बाढ़ आ गई है। युवाओं ने जबरदस्त तरीके से पार्टी के दावे की खिंचाई की है। साथ ही भाजपा के दावे बेरोजागारों ने खूब कटाक्ष किए हैं।

20181110 1310352670067219791632423

इसको लेकर राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ के अध्यक्ष उपेन यादव का कहना है कि फैंकने की आदत ऐसी हो गई है कि कुछ भी फैंक दिया जाता है, जबकि सरकार 70 हजार और 35 हजार भर्तियों को अटका कर बैठी है।

राजस्थान के युवा बेरोजगार रिट्वीट कर रहे हैं तो साथ ही जाने—माने पत्रकार रवीश कुमार ने भी रिट्वीट कर भाजपा के दावे की पोल खोल दी है। रवीश कुमार ने जोरदार कटाक्ष किया है।

खबरों के लिए फेसबुक, ट्वीटर और यू ट्यूब पर हमें फॉलो करें। सरकारी दबाव से मुक्त रखने के लिए आप हमें paytm N. 9828999333 पर अर्थिक मदद भी कर सकते हैं।