दिल्ली : रेलवे स्टेशन से अपहृत मासूम मुक्त, दंपति गिरफ्तार

दिल्ली : रेलवे स्टेशन से अपहृत मासूम मुक्त, दंपति गिरफ्तार

[ad_1]

नई दिल्ली, 8 जनवरी (आईएएनएस)। राष्ट्रीय राजधानी के दिल्ली रेलवे पुलिस ने अपहृत दो महीने के मासूम बच्चे को सकुशल बरामद कर लिया है। बच्चे का अपहरण 25 दिसंबर, 2019 को हजरत निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन से किया गया था। इस सिलसिले में पति-पत्नी को गिरफ्तार किया गया है।
दिल्ली रेलवे पुलिस के उपायुक्त (डीसीपी) हरेंद्र सिंह ने बुधवार को आईएएनएस को बताया कि गिरफ्तार दंपति का नाम कविता और दिनेश है। दंपत्ति उत्तरी गोवा का रहने वाला है। वर्तमान में दिनेश पंचकुला (हरियाणा) सेक्टर 30 में रह रहा है। पुलिस पूछताछ में दोनों ने कबूला कि शादी के कई साल बाद भी उनके कोई संतान नहीं थी। इसलिए जैसे ही दो महीने का बच्चा हाथ आया, वे उसका अपहरण करके ले गए।

बच्चे के अपहरण की घटना सीसीटीवी में कैद हो गई थी। अपहृत मासूम को सकुशल रिहा कराने के लिए पुलिस की पांच अलग-अलग टीमें बनाई गई थीं।

डीसीपी (रेलवे) हरेंद्र सिंह ने आईएएनएस को बताया, मामला चूंकि दो महीने के बच्चे की सकुशल रिहाई से जुड़ा था, लिहाजा पुलिस टीमों में अनुभवी पुलिस अधिकारी-कर्मचारी ही शामिल किए गए।

अलग-अलग गठित पुलिस टीमों में दिल्ली रेलवे पुलिस की सहायक पुलिस आयुक्त (एसीपी) मीरा शर्मा, हजरत निजामुद्दीन थाने के एसएचओ इंस्पेक्टर प्रवीन कुमार, इंस्पेक्टर (जांच) शिवचरन मीणा, सहायक उपनिरीक्षक हरपाल सिंह, हवलदार कौशलेंद्र कुमार, सिपाही सुरेंद्र, मंदीप, महिला सिपाही रवीना को शामिल किया गया था।

पुलिस की इन टीमों ने सबसे पहले हजरत निजामुद्दीन स्टेशन के प्रवेश और निकास द्वार पर लगे सीसीटीवी के फूटेज देखे। इसी फूटेज से उस महिला की पहचान कर ली गई, जिसकी गोद में अपहृत बच्चा था।

यह भी पढ़ें :  मप्र : पीएससी के प्रश्न पत्र से हटाए गए विवादित सवाल

डीसीपी सिंह ने कहा, दरअसल, इस पूरी वर्कआउट में सीसीटीवी फूटेज और पुलिस की तत्परता बेहद काम आई। अगर सीसीटीवी फूटेज से क्लू न मिलता और पुलिस द्वारा शुरू की जा रही जांच की दिशा जरा भी भ्रमित हो जाती, तो बच्चे की सकुशल रिहाई मुश्किल में पड़ सकती थी। आरोपी महिला कविता को उस वक्त दबोचा गया, जब वह ट्रेन से गोवा जाने वाली थी।

— आईएएनएस

[ad_2]