पाकिस्तान : अल्पसंख्यक समुदाय के धार्मिक नेताओं को बैठक में बुलाएगी इस्लामी परिषद

पाकिस्तान : अल्पसंख्यक समुदाय के धार्मिक नेताओं को बैठक में बुलाएगी इस्लामी परिषद

[ad_1]

इस्लामाबाद, 8 जनवरी (आईएएनएस)। पाकिस्तान में इस्लामी धार्मिक मामलों पर सरकार को सलाह देने वाली इस्लामी विचारधारा परिषद ने अपनी अगली बैठक में अल्पसंख्यक समुदाय के धार्मिक नेताओं को बुलाने और जबरन धर्म परिवर्तन की समस्या पर विचार विमर्श करने का फैसला किया है।
जंग की रिपोर्ट में यह जानकारी देते हुए बताया गया है कि परिषद की बैठक में जबरन धर्म परिवर्तन और बच्चों के यौन शोषण के मुद्दे पर विचार किया गया। रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से कहा गया कि बैठक में शामिल लोगों ने कहा कि इस्लाम, धर्म के मामले में किसी तरह की जोर जबरदस्ती की इजाजत नहीं देता। जबरन धर्म परिवर्तन के मुद्दे पर कदम उठाने की जरूरत है और परिषद की अगली बैठक में देश के अल्पसंख्यक समुदाय के धार्मिक नेताओं को बुलाकर उनसे इस मसले पर विचार विमर्श किया जाएगा।

बैठक में यह सलाह भी पेश की गई कि जो लोग धर्म परिवर्तन करना चाहते हैं, उनके लिए धार्मिक मामलों का मंत्रालय एक फार्म बनाए। जो कोई धर्म बदलना चाहता है, वह इस फार्म को भर कर इसकी वजह बताए और फिर इस फार्म को अदालत में जमा कराया जाए।

सूत्रों ने कहा कि बैठक में देश में बच्चों के यौन शोषण की घटनाओं में लगातार बढ़ोतरी पर चिंता व्यक्त की गई। प्रतिभागियों का मानना था कि पश्चिमी मूल्यों और जानकारी के अभाव के कारण बच्चों का यौन शोषण हो रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार की जिम्मेदारी है कि वह इस पर ध्यान दे।

–आईएएनएस

[ad_2]

यह भी पढ़ें :  सचिन पायलट को मिला मुख्यमंत्री बनने का आशीर्वाद