राम मंदिर का निर्माण हिंदुओं के धर्माचार्य करें : दिग्विजय

राम मंदिर का निर्माण हिंदुओं के धर्माचार्य करें : दिग्विजय

[ad_1]

भोपाल, 5 जनवरी (आईएएनएस)। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण राजनीतिक दलों द्वारा संचालित संगठन के माध्यम से नहीं, बल्कि हिंदुओं के धर्माचार्यो के द्वारा कराए जाने की मांग की है।
पूर्व मुख्यमंत्री सिंह ने रविवार को एक के बाद एक तीन ट्वीट किए और राम मंदिर निर्माण का कार्य रामालय ट्रस्ट के माध्यम से कराने की उन्होंने पैरवी की। उन्होने कहा, भगवान राम का मंदिर हिंदुओं के धर्माचार्यो द्वारा ही बनाया जाना चाहिए, राजनीतिक संगठनों द्वारा संचालित संगठनों के द्वारा नहीं। भगवान राम सब के हैं। उनके जन्मभूमि पर निर्माण की जिम्मेदारी रामालय ट्रस्ट को ही देना चाहिए।

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा, रामालय ट्रस्ट में सभी शंकराचार्य और रामानंदी सम्प्रदाय से जुड़े अखाड़ा परिषद के सदस्य ही हैं और जगदगुरु स्वामी स्वरूपानंद जी सबसे वरिष्ठ होने के नाते उसके अध्यक्ष हैं। रामालय ट्रस्ट के माध्यम से ही रामलला के मंदिर का निर्माण होना चाहिए।

पूर्व मुख्यमंत्री ने आगे कहा, रामलला के मंदिर का निर्माण शासकीय कोष से नहीं होना चाहिए। विश्व का हर हिंदू भगवान राम को ईश्वर का अवतार मानता है और मंदिर निर्माण में सहयोग करेगा। विहिप ने मंदिर निर्माण में जो चंदा जुटाया, वे उसे अपने पास रखें और उसका उपयोग समाज की कुरीतियों को समाप्त करने में खर्च करें।

ज्ञात हो कि सर्वोच्च न्यायालय ने नवंबर माह में अयोध्या के राम जन्मभूमि पर राम मंदिर निर्माण के पक्ष में फैसला सुनाया। न्यायालय ने एक ट्रस्ट बनाकर उसके जरिए मंदिर निर्माण कराने का आदेश दिया है। वहीं अन्य स्थान पर मस्जिद के लिए पांच एकड़ जमीन का प्रबंध करने का आदेश भी न्यायालय ने दिया है।

यह भी पढ़ें :  दिल्ली : मायापुरी इलाके की जूता फैक्ट्री में भीषण आग, 20 दमकल गाड़ियां पहुंचीं

–आईएएनएस

[ad_2]