जयपुर।

राजधानी जयपुर के नजदीक जमवारामगढ़ में तोलुपुर-आंधी में एक नायाब ऑर्गेनिक फार्मिंग का बड़ा खेत तैयार किया गया है। जहां से फसलें तैयार होकर बाहर बेची भी जाने लगी हैं।

15 महीने की अथक मेहनत के बाद ऑर्गेनिक फार्मिंग एक्सपर्ट नृपेन सैनी और उनके साथी राजेन्द्र मीणा ने यह फार्म तैयार किया है, जिसमें बड़े पैमाने पर गेहूं, चना, अमरुद, अनार और कई तरह के फसलें तैयार की जा रही है।

‘पर्यावरण सुख कृषि कुल’ के नाम से यहां पर करीब 150 बीघा जमीन फार्म में तैयार की गई खेती से न केवल आसपास के लोग लाभान्वित हो रहे हैं, वरन काफी उत्पाद को बाहर भी बेचा जा रहा है। जैविक खेती की पूरी जानकारी लेने के लिए आप नृपेन सैनी से 76197 10019 पर सम्पर्क कर सकते हैं।

ऑर्गेनिक फार्मिंग को बढ़ावा देने में जुटे नृपेन बताते हैं कि राजस्थान में और भी कई जगह पर उनके प्रयोग चल रहे हैं, किन्तु यह पहला ऐसा प्रयास है जहां पर अब उत्पादन अच्छे से होने लगा है। उनको लोग ऑर्गेनिक फार्मिंग के लिए अपने यहां पर भी बुलाने लगे हैं।

खेत के मालिक गौरीशंकर मीणा ने बताया कि शुरुआत में उनको भी जैविक खेती के इस प्रयोग पर भरोसा नहीं था, मगर नृपेन द्वारा की गई मेहनत और लगन के कारण अब परिणाम सामने आने लगे हैं। इसके बाद कई किसान उनके फार्म पर यह उन्नत तकनीक वाली खेती देखकर अपने खेतों में जैविक खेती के लिए प्रोत्साहित हुए हैं।

Leave a Reply