22 C
Jaipur
सोमवार, अक्टूबर 26, 2020

सुदर्शन टीवी के कार्यक्रम यूपीएससी जिहाद मामले में केंद्र के आग्रह पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई टाली

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली, 5 अक्टूबर (आईएएनएस)। केंद्र सरकार ने सुदर्शन टीवी के कार्यक्रम यूपीएससी जिहाद के मामले सुप्रीम कोर्ट को बताया कि अंतर मंत्रालय समिति ने यूपीएससी जिहाद कार्यक्रम के आगे के एपिसोड के प्रसारण पर सलाह देते हुए अपनी कुछ अतिरिक्त सिफारिशें दी हैं। केंद्र ने कहा कि सुदर्शन न्यूज को समिति की सिफारिशों को संबोधित करने का अवसर दिया जाना चाहिए।
केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट से स्थगन की मांग वाले एक पत्र के जरिए सुनवाई को टालने का अनुरोध किया, जिसके बाद न्यायाधीश डी. वाई. चंद्रचूड़, इंदु मल्होत्रा और इंदिरा बनर्जी की पीठ ने इसकी अनुमति दे दी।

केंद्र का प्रतिनिधित्व कर रहे सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने पीठ के समक्ष दलील दी कि समिति द्वारा सिफारिशों के आधार पर सोमवार को समाचार चैनल को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है, और इस पर सुनवाई मंगलवार को होगी।

- Advertisement -satish poonia

पत्र में कहा गया है, भारत संघ सम्मानपूर्वक स्वीकार करता है कि उक्त प्रक्रिया चालू है और एक उन्नत स्तर पर है। यह कहा गया है कि सुदर्शन टीवी न्यूज चैनल को सुनवाई का अंतिम अवसर देने के बाद ही केंद्र सरकार केबल टेलीविजन नेटवर्क (विनियमन) अधिनियम, 1995 की धारा 20 की उप-धारा (3) के तहत एक आदेश पारित करने की स्थिति में होगी।

पत्र में कहा गया है, केंद्र सुदर्शन टीवी समाचार चैनल को एक और अवसर देने के लिए बाध्य है।

अंतर-मंत्रालयी समिति द्वारा दी गई सिफारिश और भविष्य के कार्यक्रम के संबंध में की गई अतिरिक्त सिफारिश का जिक्र करते हुए पत्र में बताया गया है, उक्त प्रक्रिया को केंद्र सरकार के आदेश के अनुपालन के लिए आवश्यक है, ताकि प्राकृतिक न्याय का पूर्ण अनुपालन सुनिश्चित किया जा सके।

पत्र में बताया गया है, नोटिस के अनुसरण में, सुदर्शन समाचार से एक उत्तर मिला और उस पर विचार करने और सिफारिशों के लिए अंतर-मंत्रालयी समिति (आईएमसी) को भेज दिया गया। इसके बाद आईएमसी ने अपनी कार्यवाही आयोजित की, जिसमें सुदर्शन न्यूज को लिखित दलीलें दाखिल करने के साथ-साथ मौखिक दलीलें देकर मामले का प्रतिनिधित्व करने का पूरा मौका दिया गया।

समाचार चैनल के प्रतिनिधियों को सुनने के बाद आईएमसी ने चार अक्टूबर को केंद्र को अपनी सिफारिश दी है।

23 सितंबर को केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट को सूचित किया था कि यह प्रथम दृष्टया पाया गया है कि यूपीएससी जिदाह कार्यक्रम ने प्रोग्राम कोड का उल्लंघन किया है। परिणामस्वरूप चैनल को यह दिखाने के लिए एक विस्तृत कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है कि इसके खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं की जानी चाहिए। शीर्ष अदालत ने 15 सितंबर को इस टीवी शो के शेष एपिसोड को रोकने का आदेश पारित कर दिया था।

–आईएएनएस

एकेके/एएनएम

National Dunia से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर लाइक और Twitter, YouTube पर फॉलो करें.

- Advertisement -
सुदर्शन टीवी के कार्यक्रम यूपीएससी जिहाद मामले में केंद्र के आग्रह पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई टाली 2
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

चीनी प्रतिनिधि ने बहुपक्षवाद का समर्थन देने की अपील की

बीजिंग, 25 अक्टूबर (आईएएनएस)। संयुक्त राष्ट्र संघ स्थित चीनी स्थाई प्रतिनिधि च्यांग ज्वून ने 24 अक्तूबर को संयुक्त राष्ट्र दिवस के मौके पर वीडियो...
- Advertisement -

पडिकल की तकनीक हेडन की तरह : मौरिस

दुबई, 25 अक्टूबर (आईएएनएस)। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के बल्लेबाज देवदत्त पडिकल की तकनीक आस्ट्रेलिया के मैथ्यू हेडन के समान है। यह कहना है बेंगलोर...

आईपीएल-13 : चेन्नई ने बेंगलोर को 8 विकेट से हराया

दुबई, 25 अक्टूबर (आईएएनएस)। चेन्नई सुपर किंग्स ने रविवार को दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में खेले गए आईपीएल-13 के 44वें मैच में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर...

मप्र को कलंकित करने में जुटी भाजपा : कमल नाथ

भोपाल, 25 अक्टूबर (आईएएनएस)। मध्यप्रदेश में कांग्रेस के एक और विधायक ने विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा देने के बाद भाजपा का दामन थाम...

Related news

सरकार को 10 दिन समय, बेरोजगार फिर आंदोलन की राह तलाशेंगे: यादव

-अधिकारियों की तानाशाही और मंत्रियों की लापरवाही को लेकर राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ ने आंदोलन की दी चेतावनी, सरकार को दिया 10...

भाजपा ने बागियों के खिलाफ लिया एक्शन, कांग्रेस क्यों पीछे हटी?

जयपुर। जयपुर, जोधपुर और कोटा के 6 नगर निगमों के लिए चुनाव की तैयारियां भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस दोनों के द्वारा...

आईपीएल-13 : मुम्बई ने चेन्नई को 10 विकेट से हराया

शारजाह, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। मुम्बई इंडियंस ने शुक्रवार को यहां खेले गए आईपीएल के 13वें सीजन के 41वें मैच में चेन्नई सुपर किंग्स को...

कांग्रेस नहीं बना पाई प्रदेश कार्यालय, भाजपा ने उससे बड़े जिला कार्यालय बना दिये

जयपुर। कांग्रेस पार्टी भले ही करीब 55 साल तक राजस्थान की सत्ता पर राज करती रही हो, लेकिन आज तक भी कांग्रेस...
- Advertisement -