20 C
Jaipur
बुधवार, अक्टूबर 28, 2020

एसएफजे ने खालिस्तान का समर्थक करने के लिए किसानों को 10 लाख डॉलर देने की घोषणा की

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली, 23 सितम्बर (आईएएनएस)। देश में हजारों की संख्या में किसान संसद में पारित कृषि बिल का विरोध कर रहे हैं, इसबीच अमेरिका स्थित अलगाववादी समूह सिख फॉर जस्टिस(एफएफजे) इस मौके का लाभ उठाना चाह रहा है। संगठन ने खालिस्तान को समर्थन देने के बदले किसानों को 10 लाख डॉलर का अनुदान देने की घोषणा की है।
एसएफजे की ओर से इस नए ऑफर पर सुरक्षा एवं खुफिया एजेंसियां अलर्ट हो गई हैं। एजेंसियों ने तत्काल दोनों राज्यों के कानून प्रवर्तन एजेंसियों को इस बारे में नवीनतम जानकारी साझा की है।

अधिकारियों ने ऐसे तत्वों के खिलाफ राज्य पुलिस बलों को तत्काल कार्रवाई करने को कहा है, जो किसान प्रदर्शनों के बीच भारत-विरोधी एजेंडा को आगे बढ़ा रहे हैं।

- Advertisement -satish poonia

किसानों के मौजूदा प्रदर्शन का लाभ उठाते हुए, एसएफजे ने कहा कि वह कृषि ऋण न चुका पाने वाले किसानों के बीच 10 लाख डॉलर का वितरण करेगा।

एसजेएफ ने कहा, 1 अक्टूबर से 8 अक्टूबर के बीच किसी भी धर्म से ताल्लुक रखने वाले किसान खालिस्तान रेफ्रेंडम 2020 के लिए 25 वोट रजिस्टर कर सकते हैं और अपने कृषि लोन को चुकाने के लिए 5,000 रुपये की सहायता प्राप्त कर सकते हैं।

एसएफजे के जनरल काउंसिल गुरपतवंत सिह पन्नून ने भारत सरकार के नए कृषि बिल को उपनिवेशी एजेंडा बताया, जो किसानों से अंतत: उनकी जमीन छीन लेगी। पन्नून ने कहा, मोदी सरकार पंजाब और हरियाणा के किसानों को कंगाल बनाकर उन्हें गुलाम बनाना चाहती है। एसएफजे ने हरियाणा के किसानों को भी शामिल किया है, क्योंकि हम हरियाणा को भी खालिस्तान का हिस्सा मानते हैं।

यह बताना जरूरी है कि 21 सितंबर से 20 अक्टूबर तक चलने वाले एसएफजे के डोर टू डोर वोटर पंजीकरण के तत्वाधान में, इस कट्टरपंथी सिख समूह ने अब तक पंजाब के 12,000 गांवों में वोट रजिस्टर करने के लिए 400 रेफ्रेंडम एंबेसेडर की नियुक्ति की है। वोटों के पंजीकरण के लिए ऐसे प्रत्येक नियुक्त लोगों को 7500 रुपये दिए जाएंगे।

एक खुफिया अधिकारी और एनआईए के दो अधिकारियों ने नाम न उजागर करने की शर्त पर आईएएनएस को बताया था कि एसएफजे ने यह रणनीति उसके कनाडा और रूसी पोर्टल के ऑनलाइन रेफ्रेंडम 2020 विफल होने के बाद उठाया है।

एसएफजे ने नवंबर में इस वर्ष रेफ्रेंडम 2020 कैंपेन को आयोजित करने की घोषणा की थी। इससे पहले, समूह ने रेफ्रेंडम से पहले पंजाब के किसानों को लुभाने के लिए प्रत्येक किसानों को 3500 रुपये की राशि की पेशकश की थी।

एनआईए की अनुशंसा के आधार पर, गृह मंत्रालय ने सितंबर की शुरुआत में एसएफजे के प्रमुख नेता गुरपतवंत सिंह पन्नून और हरदीप सिंह निज्जर की संपत्ति जब्त करने का आदेश दिया था।

पन्नू एसएफजे का जनरल काउंसिल है, जबकि निज्जर रेफ्रेंडम 2020 का कनाडा कोर्डिनेटर।

–आईएएनएस

आरएचए/एएनएम

National Dunia से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर लाइक और Twitter, YouTube पर फॉलो करें.

- Advertisement -
एसएफजे ने खालिस्तान का समर्थक करने के लिए किसानों को 10 लाख डॉलर देने की घोषणा की 2
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

आईपीएल-13 : हैदराबाद ने दिल्ली को दिया 220 रनों का लक्ष्य

दुबई, 27 अक्टूबर (आईएएनएस)। सनराइजर्स हैदराबाद ने मंगलवार को यहां के दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में जारी आईपीएल के 13वें सीजन के 47वें मैच में...
- Advertisement -

आईपीएल-13 : प्लेऑफ और दिल्ली के बीच 220 रनों की बाधा (लीड-2)

दुबई, 27 अक्टूबर (आईएएनएस)। दिल्ली कैपिटल्स को अगर आईपीएल-13 के प्लेऑफ में पहुंचने वाली पहली टीम बनना है तो उसे 220 रनों की बाधा...

हैदराबाद ने बनाया सीजन का चौथा और लीग में अपना दूसरा सबसे बड़ा स्कोर

दुबई, 27 अक्टूबर (आईएएनएस)। सनराइजर्स हैदराबाद ने अपने शीर्ष क्रम के दम पर मंगलवार को दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ दो विकेट पर 219 र...

कृषि कानून के विरोध में 5 नवंबर को देशभर हाईवे जाम करेंगे किसान संगठन

नई दिल्ली, 27 अक्टूबर (आईएएनएस)। केंद्र सरकार द्वारा हाल ही में लागू किए गए कृषि से संबंधित तीन कानूनों के विरोध में किसान संगठनों...

Related news

RLP पंचायत समिति और जिला परिषद सदस्य चुनाव अकेले लड़ेगी, फिर हुंकार भरेंगे हनुमान

जयपुर। नागौर के सांसद हनुमान बेनीवाल की राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी प्रदेश में आने वाले दिनों में होने वाले पंचायती राज व जिला...

यूपी के हर जिले में होगा एंटी-ह्यूमन ट्रैफिकिंग थाना

लखनऊ, 26 अक्टूबर (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने महिलाओं और बच्चों की तस्करी के खिलाफ बड़ा कदम उठाया है। उत्तर प्रदेश के...

बाल्टी वाले निर्दलीय ने खुद को घोषित किया भाजपा प्रत्याशी

जयपुर। निर्दलीय प्रत्याशी ने खुद को अपने ही स्तर पर भाजपा का प्रत्याशी घोषित कर दिया है। मजेदार बात यह कि प्रत्याशी...

सरकार को 10 दिन समय, बेरोजगार फिर आंदोलन की राह तलाशेंगे: यादव

-अधिकारियों की तानाशाही और मंत्रियों की लापरवाही को लेकर राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ ने आंदोलन की दी चेतावनी, सरकार को दिया 10...
- Advertisement -