UN में चीन को पछाड़कर संयुक्त राष्ट्र के ECOSOC का सदस्य बना भारत

भारत के पक्ष में आए 54 वोट

चीन की ओर से किये जा रहे छद्म युध्द में भारत ने एक बार फिर से चीन के खिलाफ बड़ी जीत हासिल की है।

जी हां, भारत को संयुक्त राष्ट्र में बड़ी सफलता हाथ लगी है। चीन को पछाड़कर भारत संयुक्त राष्ट्र की प्रतिष्ठित ECOSOC का सदस्य बन गया है।

चीन को मात देते हुए भारत ने इकोनॉमिक्स एंड सोशल काउंसिल की सदस्यता हासिल करने में कामियाबी हासिल कर ली। अगले चार सालों तक भारत ECOSOC का सदस्य देश बना रहेगा।

गौरतलब है कि संयुक्त राष्ट्र की इकोनॉमिक एंड सोशल काउंसिल( ECOSOC) महिलाओं की स्थिति के लिए काम करती है।

संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि टीएस तिरुमूर्ति ने इस बारे में जानकारी दी कि भारत ने इस प्रतिष्ठित आयोग में अपनी सीट पक्की कर ली है।

उन्होंने ECOSOC के सदस्य बनाए जाने पर सभी सदस्य देशों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि इस आयोग में भारत ने अपनी जगह बनाई है, जो बताता है कि हम महिलाओं के विकास और उनके सशक्तिकरण को लेकर कितने प्रतिबंद्धित और जागरुक हैं।

हमने महिलाओं के विकास को लेकर जो काम किया है वो सब इसमें काम आया।

गौरतलब है कि भारत ने ECOSOC की सदस्यता हासिल करने में चीन को मात दी। चीन को झटका देते हुए भारत में 54 से अधिक देशों का समर्थन हासिल करते हुए यह सदस्यता हासिल की।

भारत अब इस आयोग का अगले चार सालों तक सदस्य बना रहेगा। इस आयोग की सदस्यता हासिल करने के लिए चीन, अफगानिस्तान और भारत के बीच कड़ा मुकाबला था।

यह भी पढ़ें :  डॉक्टर गुस्से में, सोमवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर

चीन पहले ही दौर में पिछड़ गया। चीन को निराशा ही हाथ लगी। वहीं भारत और अफगानिस्तान को 54 से अधिक देशों का समर्थन हासिल हुआ।

इस रेस में आखिरकार भारत ने अफगानिस्तान को पछाड़कर ECOSCO की सदस्यता हासिल कर ली है।