30 C
Jaipur
बुधवार, सितम्बर 23, 2020

क्या बिकरू में विकास दुबे के भूत का है साया?

- Advertisement -
- Advertisement -

कानपुर, 14 सितंबर (आईएएनएस)। कानपुर का बिकरू गांव, जहां जैसे ही सूरज डूबता है, लोग जल्दी-जल्दी अपने घर लौट लगते हैं और घरों के दरवाजे बंद कर लेते हैं। ये दास्तां उत्तर प्रदेश के उस गांव की है जिसने हाल के दिनों में सबसे भायवह खूनखराबा वाला मंजर देखा था।
अब पहले की तरह लोग दिन में या शाम को बैठकर बातें नहीं करते हैं। सूरज डूबते ही एक भयानक सन्नाटा बिकरू को घेर लेता है।

बिकरू हत्याकांड को हुए लगभग ढाई महीने हो चुके हैं, जिसमें आठ पुलिसकर्मी मारे गए थे।

बिकरू के लोग हालांकि पूरे विश्वास के साथ कहते हैं कि वे अब भी रात में गोलियों की आवाज सुनते हैं।

गांव के एक युवक ने नाम जाहिर न करने का आग्रह करते हुए कहा, आज भी गोलियों की आवाज सुनाई देती है। सब जानते हैं, पर बोलता कोई नहीं। कुछ लोगों ने तो विकास भैया (विकास दुबे) को देखा भी है।

स्थानीय लोगों ने दबी जुबान में दावा किया कि उन्होंने अक्सर विकास दुबे को उसके घर के खंडहर में बैठा देखा है। दो-तीन जुलाई की रात को बिकरू हत्याकांड के बाद विकास दुबे के घर को सरकार ने तोड़ दिया था।

एक बुजुर्ग ने दावा किया, हमने उसे वहां बैठे और मुस्कुराते हुए देखा है। यह कुछ ऐसा है जैसे वह हमें कुछ बताने की कोशिश कर रहा है। हमें यकीन है कि वह अपनी मौत का बदला लेगा।

विकास दुबे के ध्वस्त घर के पास रहने वाले एक परिवार का दावा है कि उन्होंने कई तरह की आवाजें भी सुनी हैं।

एक महिला ने कहा, एक से ज्यादा मौकों पर, हमने खंडहर में लोगों को किसी बात पर चर्चा करते हुए सुना है, हालांकि आवाज साफ सुनाई नहीं दी। बीच में थोड़ा हंसी-मजाक भी चलने का आभास हुआ। यह काफी हद तक वैसा ही था, जैसा विकास के जिंदा रहने के दौरान घर में होता था।

हत्याकांड के बाद बिकरू गांव में चार पुलिसकर्मी- दो पुरुष और दो महिलाएं तैनात हैं। उनमें से किसी ने भी रिकॉर्ड पर, गोलियों की आवाज सुनने या या विकास दुबे को देखने की बात नहीं स्वीकारी।

उनमें से एक ने कहा, हमें अपनी ड्यूटी करने में कोई दिक्कत नहीं है। और आगे बात करने से इनकार कर दिया।

एक स्थानीय पुजारी का कहना है कि स्थानीय लोगों के दावों को खारिज नहीं किया जा सकता।

उन्होंने कहा, ऐसे मामलों में जहां अकाल मृत्यु हुई होती हैं, ऐसी घटनाएं होती हैं। विकास दुबे के मामले में अंतिम संस्कार ठीक से नहीं किया गया और मृत्यु के बाद की रस्में भी नहीं की गईं। ऐसा ही उसके पांचों साथियों के साथ हुआ है जो मुठभेड़ों में मारे गए थे।

ग्रामीणों ने एक स्थानीय पुजारी से परेशान भटकती आत्माओं की तृप्ति के लिए पितृ पक्ष की अवधि में विशेष पूजा कराने के लिए कहा, लेकिन पुजारी ने यह कहते हुए मना कर दिया कि वह पुलिस के रडार पर नहीं आना चाहते।

एक ग्रामीण ने कहा, हम नवरात्रि के दौरान पूजा कराने की कोशिश करेंगे, ताकि हत्याकांड और उसके बाद के मुठभेड़ में मारे गए सभी लोगों, पुलिसकर्मियों की आत्मा को शांति मिल सके।

–आईएएनएस

वीएवी/एसजीके

National Dunia से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर लाइक और Twitter, YouTube पर फॉलो करें.

- Advertisement -
क्या बिकरू में विकास दुबे के भूत का है साया? 2
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

कर्नाटक में भाजपा को अनंतकुमार ने मजबूत किया : येदियुरप्पा

बेंगलुरु, 23 सितंबर (आईएएनएस)। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी.एस. येदियुरप्पा ने मंगलवार को दक्षिणी राज्य में भारतीय जनता पार्टी के मजबूत होने का श्रेय दिवंगत...
- Advertisement -

नो बॉल का खामियाजा भुगतना पड़ा : धोनी

शरजाह, 23 सितंबर (आईएएनएस)। आईपीएल-13 के अपने दूसरे मैच में मात खाने वाली चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने मंगलवार को...

विपक्ष के बहिष्कार के बीच सरकार ने राज्यसभा में कई विधेयक पारित कराए

नई दिल्ली, 22 सितंबर (आईएएनएस)। संसद का मानसून सत्र जारी है। राज्यसभा में विपक्षी नेताओं के हंगामे सांसदों के निलंबन वापसी की मांग के...

तेलंगाना के मुख्यमंत्री, कई मंत्री ओवैसी की बेटी की शादी में पहुंचे

हैदराबाद, 23 सितंबर (आईएएनएस)। ऑल इंडिया इत्तेहादुल मुस्लिमीन के प्रमुख व हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी की बेटी की शादी मंगलवार को यहां उनके...

Related news

प्रधान पिंकी चौधरी की अशोक को छोड़ नए प्रेमी के साथ भागने की अफवाह?

बाड़मेर। जिले के समदड़ी पंचायत समिति क्षेत्र से प्रधान पिंकी चौधरी के 1 महीने पहले अपने प्रेमी अशोक चौधरी के साथ भागने...

सचिन पायलट को फंसाने चले थे, अशोक गहलोत खुद आये लपेटे में

भोपाल/जयपुर। मध्य प्रदेश की 28 सीटों पर होने वाले उपचुनाव को लेकर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और मध्य प्रदेश के पूर्व...

आईपीएल-13 : बेंगलोर ने हैदराबाद को 10 रनों से दी शिकस्त

दुबई, 21 सितंबर (आईएएनएस)। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर ने सोमवार को दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में खेले गए आईपीएल-13 के मैच में सनराइजर्स हैदराबाद को 10...

हनुमान बेनीवाल ने स्थानीय लोगों को नौकरी देने के लिए संसद में उठाई यह मांग

-आरोप-प्रत्यारोप से उपर उठकर मजदूर हितों पर हो सामूहिक चिंतन, 80 प्रतिशत स्थानीय लोगों को रोज़गार देने का बनाया जाए प्रावधान -...
- Advertisement -