33 C
Jaipur
शुक्रवार, सितम्बर 18, 2020

कोविड के बाद देखभाल के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय के नए दिशानिर्देश जारी

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली, 13 सितंबर (आईएएनएस)। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने रविवार को कोविड-19 से उबरने के बाद देखभाल (पोस्ट कोविड केयर) के लिए जारी किए गए नए दिशानिर्देशों में आयुर्वेद को अपनाने पर जोर दिया है, जिसमें च्यवनप्राश और आयुष दवाओं के इस्तेमाल की सलाह शामिल है।
दिशानिर्देशों में मंत्रालय ने पोस्ट कोविड केयर में बेहतर स्वास्थ्य लाभ के लिए आयुष क्वाथ और समशमनी वटी जैसी प्रतिरक्षा-बढ़ाने वाली दवाओं के दैनिक उपयोग की सिफारिश की।

मंत्रालय द्वारा जारी सलाह में कहा गया है कि अन्य सुझावों के बीच योग, प्राणायाम और हर दिन की सैर को भी शामिल किया गया है। दिशानिर्देश के अनुसार, क्लिनिकल प्रैक्टिस में च्यवनप्राश को रिकवरी के बाद की अवधि में प्रभावी माना जाता है।

वहीं मंत्रालय ने लोगों को व्यक्तिगत स्तर पर चेहरे पर मास्क पहनने, हाथ धोने, सामाजिक दूरी बनाए रखने और अन्य सांस-संबंधी साफ सफाई जैसे प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन करने की सलाह दी।

दिशानिर्देश में आगे कहा सुझाव दिए गए हैं, यदि स्वास्थ्य ठीक हो तो नियमित रूप से घरेलू कामों में भी शामिल हों। वहीं पेशेवर काम को श्रेणीबद्ध तरीके से फिर से शुरू किया जाना चाहिए।

घर में किसी के भी स्वास्थ्य की निगरानी करने की आवश्यकता पर जोर देते हुए मंत्रालय ने लोगों को नियमित रूप से शरीर के तापमान और रक्तचाप की जांच करने की सलाह दी। साथ ही डॉक्टरों की सलाह पर पल्स ऑक्सीमीटर पर ऑक्सीजन रीडिंग लेने को भी कहा। उसके अनुसार, तेज बुखार, सांस की तकलीफ, सीने में दर्द, कंफ्यूजन की स्थिति, और कमजोरी जैसे लक्षणों को शुरुआती चेतावनी के तौर पर देखें।

वहीं मंत्रालय ने इससे उबर चुके लोगों से मित्रों और रिश्तेदारों के साथ अनुभवों को साझा करने के लिए सोशल मीडिया के माध्यम से जागरूकता फैलाने की सलाह दी। दिशानिर्देश के अनुसार, सोशल मीडिया पर इन अनुभवों को साझा करने से सार्वजनिक जागरूकता फैलाने, मिथकों को दूर करने और कलंक को दूर करने में मदद मिलेगी।

इसके अलावा यदि आवश्यक हो, तो मंत्रालय ने मानसिक स्वास्थ्य सहायता लेने की सलाह दी। दिशानिर्देश के अनुसार, साथियों, सामुदायिक स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं और काउंसलर से साइको-सोशल सपोर्ट लें। यदि आवश्यक हो तो मानसिक स्वास्थ्य सहायता सेवा की मदद लें। रिकवरी और पुनर्वास प्रक्रिया (चिकित्सा, सामाजिक, व्यावसायिक, आजीविका) के लिए समुदाय-आधारित स्व-सहायता समूहों, नागरिक समाज संगठनों की मदद लें।

–आईएएनएस

एमएनएस/एसजीके

National Dunia से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर लाइक और Twitter, YouTube पर फॉलो करें.

- Advertisement -
कोविड के बाद देखभाल के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय के नए दिशानिर्देश जारी 2
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

फेडरर ने विज्ञापन के लिए गाया बीटल्स क्लासिक

नई दिल्ली, 18 सितम्बर (आईएएनएस)। 21 बार के ग्रैंड स्लैम विजेता स्विस टेनिस स्टार रोजर फेडरर ने एक विज्ञापन के लिए एक बीटल्स क्लासिक...
- Advertisement -

कृषि विधेयकों के विरोध में पंजाब के किसान ने की आत्महत्या की कोशिश

चंडीगढ़, 18 सितम्बर (आईएएनएस)। भाजपा के सबसे पुराने सहयोगी शिरोमणि अकाली दल के विरोध के बावजूद लोकसभा में दो विवादास्पद कृषि विधेयकों के पारित...

कांग्रेस सांसद ने पंजाब जहरीली शराब कांड की सीबीआई जांच की मांग की

नई दिल्ली, 18 सितम्बर (आईएएनएस)। पंजाब की अपनी ही सरकार पर निशाना साधते हुए, राज्यसभा में कांग्रेस सांसद शमशेर सिंह दुलो ने शुक्रवार को...

एलजीबीटीक्यू समुदाय पर और फिल्मों की जरूरत: हंसल मेहता

मुंबई, 18 सितंबर (आईएएनएस) फिल्मकार हंसल मेहता का मानना है कि एलजीबीटीक्यू समुदाय पर और अधिक फिल्में बनाने की जरूरत है।मेहता ने आईएएनएस से...

Related news

पिंकी चौधरी भागने वाली लड़कियों की रोल मॉडल बनी, चार लड़कियों ने ली प्रेरणा और प्रेमियों के साथ भाग गईं

बाड़मेर/टोंक। पिछले महीने बाड़मेर के समदड़ी पंचायत समिति की प्रधान पिंकी चौधरी के घर से भागने और आपने प्रेमी अशोक चौधरी के...

पिंकी प्रधान आशिक की तीसरी पत्नी बनने से पहले एक साल लिव इन रिलेशनशिप में रही!

बाड़मेर। 'पिंकी प्रधान' उर्फ समदड़ी पंचायत समिति प्रधान पिंकी चौधरी अपने आशिक अशोक चौधरी की तीसरी पत्नी बनने से पहले एक साल...

भारतीय सेना ने पूर्वी लद्दाख में लंबे समय के लिए जरूर सामग्री स्टॉक की

नई दिल्ली, 15 सितंबर (आईएएनएस)। पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर भारत और चीन के बीच गतिरोध बना हुआ है। इस तनावपूर्ण...

बाड़मेर: लड़की भगा ले गया शिक्षक, मिलते ही घरवालों ने किया ऐसा हाल

बाड़मेर। राजस्थान के सीमावर्ती जिले बाड़मेर में एक स्कूल के अध्यापक पर जानलेवा हमले और नाक व दोनों कान काटने की घटना सामने...
- Advertisement -