कंगना रनौत सीएम उद्धव ठाकरे को ललकार कर टूटा ऑफिस देखने पहुंचीं

मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री, जो कि हाल ही में बॉलीवुड में बड़े पैमाने पर ड्रग्स लेने वाले अभिनेताओं और अभिनेत्रियों की जांच की मांग को लेकर सुर्खियों में आई है, वो कंगना रनौत अब सीधी महाराष्ट्र की सरकार से भीड़ रही हैं।

एक दिन पहले ही महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और शिवसेना के प्रवक्ता व सांसद संजय रावत को लटकाने वाली कंगना रनौत आज मुंबई में बीएमसी द्वारा तोड़े गए अपने ऑफिस को देखने पहुंचीं।

मुंबई में अपने करोड़ों रुपए के ऑफिस को बीएमसी द्वारा तोड़े जाने के बाद कंगना रनौत ने महाराष्ट्र की सरकार की इस कार्रवाई को बाबर सेना की कार्रवाई करार देते हुए कहा था कि मेरा ऑफिस राम मंदिर और राम मंदिर का निर्माण फिर से होगा।

अभिनेत्री कंगना रनौत को केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार में गृह मंत्री अमित शाह के द्वारा Y श्रेणी की सुरक्षा मुहैया करवाई गई है। रनौत एक दिन पहले ही अपने गृह जिले हिमाचल प्रदेश से मुंबई पहुंची हैं।

इससे पहले कंगना रनौत के द्वारा मुंबई की तुलना पीओके से करने के बाद महाराष्ट्र की शिवसेना सरकार और शिवसेना के प्रवक्ता संजय राउत ने कंगना रनौत को हरामखोर कहा था।

इसके बाद संजय रावत और महाराष्ट्र की सरकार के मुखिया उद्धव ठाकरे और उनकी सरकार में उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ठाकरे पर सोशल मीडिया के माध्यम से चारों ओर से जबरदस्त हमला हुआ है।

कंगना रनौत ने स्पष्ट रूप से चैलेंज करते हुए महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार को कहा है कि उस में दम है तो उसके खिलाफ कार्रवाई करके दिखाएं। बिना वजह बीएमसी के द्वारा उनके ऑफिस को तोड़ा गया है और एक दिन उद्धव ठाकरे का घमंड भी ऐसे ही टूट जाएगा।

यह भी पढ़ें :  जर्मन टैक्नोलॉजी की पैकेजिंग का उपयोग करते हुए रुफिल ने बाजार में उतारा सॉफ्ट पनीर