प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बने दुनिया के सबसे ताकतवर राजनेता

नई दिल्ली। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दुनिया के सबसे ताकतवर राजनेता बन गए हैं, जबकि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन समेत चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग काफी पीछे छूट गए हैं।

नई दिल्ली के एक स्थानीय ऑनलाइन मैगजीन के द्वारा ऑनलाइन सर्वे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दुनिया का सबसे ताकतवर राजनेता बताया गया है।

इस मैगजीन ने दावा किया है कि करीब 14 लाख से ज्यादा वोटर्स के द्वारा प्रधानमंत्री मोदी को 60% से अधिक मत प्राप्त हुए हैं, जबकि डॉनल्ड ट्रंप को 18% रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को 16% और शी जिनपिंग को केवल 10% मत प्राप्त हुए हैं।

मैगजीन का दावा है कि 1400000 मतदाताओं में से केवल छह लाख मतदाता भारत के हैं, जबकि बाकी आठ लाख वोटर्स विदेशों से हैं।

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता का आलम यह है कि 4 वर्ग में किए गए इस सर्वे में प्रधानमंत्री मोदी सबसे पहले पायदान पर है।

प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी के पद में लगातार वृद्धि होती जा रही है। अपने पहले कार्यकाल में विदेश यात्राओं के चलते दुनिया भर में संपर्क स्थापित करने वाले नरेंद्र मोदी ने अपने दूसरे कार्यकाल के 1 साल के भीतर एक ऐतिहासिक फैसले करके दुनिया में मिसाल कायम की है।

2014 से 2019 के कार्यकाल के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान समेत सभी पड़ोसी देशों के साथ मधुर संबंध बनाने के अथक प्रयास किए, लेकिन पाकिस्तान ने अपनी पुरानी आदत के मुताबिक भारत के साथ दुश्मनी निभाई। नतीजा यह हुआ कि दूसरे कार्यकाल में पाकिस्तान की हालत भारत से दुश्मनी करने जैसी भी नहीं रही है।

यह भी पढ़ें :  अमेरिका की तरह मोदी सरकार भी अपने हर नागरिक को $1000 देगी!

अपने पहले कार्यकाल में प्रधानमंत्री ने जहां पाकिस्तान को धूल चटाई, वहीं अब दूसरे कार्यकाल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निशाने पर चीन है। चीन के 200 से ज्यादा मोबाइल एप्लीकेशंस को बैन करने के कारण प्रधानमंत्री की यह डिजिटल स्ट्राइक कही जा रही है, जिससे चीन की अर्थव्यवस्था पर नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।