27 C
Jaipur
शुक्रवार, अक्टूबर 23, 2020

5 साल की बच्ची ने अपने पिता से पूछा.. पापा हमें भूल गये हो क्या

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली, 3 सितम्बर (आईएएनएस)। पापा हमें भूल गए हो क्या ? ये सवाल सुन एक पिता के आंखों में आंसू आ गए। पिछले 6 महीने से इस सवाल के जवाब में पिता कहते आ रहे हैं कि जल्दी आऊंगा, हमारे देश इस वक्त संकट में है। दरअसल दिल्ली के एक एनजीओ में शव वाहन चलाने वाले बलदेव को हर दिन अपनो बेटी को यही जवाब देना पड़ता है। लेकिन मजबूरी है कि वो अपने घर नहीं जा सकते।

दरअसल बलदेव दिल्ली की शहीद भगत सिंह सेवा दल एनजीओ में शव वाहन चलाते हैं और पिछले 6 महीनों से कोरोना संक्रमण से जिन लोगों की मौत हो रही है। उनके शवों को अस्पताल से शामशाम घाट पहुंचाने और उनके अंतिम संस्कार करने में भी मदद करते हैं।

दिल्ली के विवेक विहार निवासी बलदेव मार्च महीने से ही अपने परिवार से नहीं मिले हैं, उनके घर में एक 5 साल की बच्ची और उनकी बीवी है। जो की हर दिन इंतजार में रहते हैं कि कब बलदेव घर आएंगे और हमसे मुलाकात करेंगे।

हालांकि बलदेव उन कोरोना योद्धाओं में से एक हैं, जो हर दिन 4 से 5 कोरोना संक्रमित शवों को अस्पताल से शमशान घाट पहुंचाते हैं।

दिल्ली की शहीद भगत सिंह सेवा दल एनजीओ में बलदेव पिछले करीब 18 सालों से शव उठाने का काम कर रहे हैं। बलदेव ने आईएएनएस को बताया, मार्च में आखिरी बार मैंने अपने परिवार से मुलाकात की थी। अब बस सुबह शाम फोन पर ही बीवी और बच्ची से बात होती है।

उन्होंने बताया, मेरी बिटिया हर दिन मुझसे पूछती है कि पापा हमें भूल गए हो क्या? मैं कहता हूं भुला नहीं हूं। मैं घर नहीं आ सकता क्योंकि मुझे डर है कि कहीं मेरी वजह से मेरे परिवार को कोरोना संक्रमण न हो जाये।

एनजीओ की गाड़ियां जिस पार्किं ग में खड़ी होती हैं, वहीं बलदेव के साथ अन्य काम करने वाले लोगों के लिए भी रहने की व्यवस्था कर दी गई है।

एनजीओ शहीद भगत सिंह सेवा दल के आपदा प्रबंधन डिपार्टमेंट के हेड ज्योत जीत ने आईएएनएस को बताया, बलदेव करीब 18 सालों से हमारे संस्थान में काम कर रहे हैं। हमारी 48 लोगों की टीम है। हम शवों को उठाने, दाह संस्कार कराने का काम करते हैं, बलदेव उसी टीम का हिस्सा हैं।

–आईएएनएस

एमएसके/एएनएम

National Dunia से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर लाइक और Twitter, YouTube पर फॉलो करें.

- Advertisement -
5 साल की बच्ची ने अपने पिता से पूछा.. पापा हमें भूल गये हो क्या 2
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

236 लोगों के बौद्ध धर्म अपनाने के बाद पुलिस ने दर्ज की एफआईआर

नई दिल्ली, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। गाजियाबाद में वाल्मीकि समुदाय के 236 सदस्यों द्वारा बौद्ध धर्म अपनाए जाने के बाद जिला पुलिस ने अज्ञात व्यक्ति...
- Advertisement -

चैंपियंस लीग : इंटर मिलान ने बोरूसिया मोनशेनग्लाबाच को ड्रॉ पर रोका

मिलान, 22 अक्टूबर (आईएएनएस)। रोमेलु लुकाकू के आखिरी समय में किए गोल की मदद से इंटर मिलान ने चैंपियंस लीग के ग्रुप-बी मुकाबले में...

शिअद सत्ता में आने पर किसान विरोधी बिलों को रद्द कर देगी : सुखबीर बादल

चंडीगढ़, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने यहां गुरुवार को कहा कि उनकी पार्टी जब राज्य की...

वैश्विक स्तर पर कोविड-19 के मामले 4.15 करोड़ हुए

वाशिंगटन, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। वैश्विक स्तर पर कोरोनावायरस मामलों की कुल संख्या बढ़कर 4.15 करोड़ हो गई है, जबकि संक्रमण से होने वाली मौतें...

Related news

झूठ बोल रहे हैं मुख्यमंत्री गहलोत: डॉ. मीणा

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के द्वारा एक दिन पहले ही मीणा और मीना विवाद को लेकर बयान जारी किए जाने पर भारतीय...

एफबी, इंस्टाग्राम ने दुर्गा पूजा के लिए लॉन्च किए एआर फिल्टर्स, जीआईएफ और हैशटैग्स

नई दिल्ली, 20 अक्टूबर (आईएएनएस)। फेसबुक और इंस्टाग्राम ने मंगलवार को दुर्गा पूजा को ध्यान में रखते हुए कई नए फीचर्स और कंटेंट प्रोग्रामिंग...

संघ और डॉ. सतीश पूनियां की पसंद ने बनाये प्रदेश मोर्चों के अध्यक्ष

-भाजपा ने मोर्चों के प्रदेश अध्यक्ष पदों पर  संगठन के सक्रिय कार्यकर्ताओं को  सौंपी कमान जयपुर। भारतीय जनता पार्टी...

बीजेपी में मोर्चा प्रदेशाध्यक्षों का ऐलान: संगठन ने उतारे ज़मीनी लोग, हेरारकी तोड़ी

जयपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां ने बुधवार शाम को प्रदेश के विभिन्न मोर्चों के प्रदेश अध्यक्षों के...
- Advertisement -