32 C
Jaipur
मंगलवार, सितम्बर 22, 2020

सुप्रीम कोर्ट : भूषण की प्रतिक्रिया अधिक अपमानजनक है, एजी ने कहा, माफ कर दीजिए

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली, 25 अगस्त (आईएएनएस)। सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को वरिष्ठ अधिवक्ता प्रशांत भूषण के खिलाफ अवमानना मामले की सुनवाई के दौरान अटॉर्नी जनरल (एजी) से कहा कि भूषण की अदालत के पतन संबंधी टिप्पणी आपत्तिजनक है, लेकिन उनकी अदालत में प्रतिक्रिया इससे भी अधिक अपमानजनक है।
अटॉर्नी जनरल के. के. वेणुगोपाल ने सुप्रीम कोर्ट से प्रशांत पर नरमी बरतने की मांग करते हुए गुजारिश की कि भूषण को चेतावनी देकर छोड़ दिया जाए। इस पर पीठ ने एजी से पूछा, भूषण को चेतावनी का क्या फायदा है, जो सोचते हैं कि उन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया है?

वेणुगोपाल ने जवाब दिया कि उनकी प्रतिक्रिया पर विचार नहीं किया जाना चाहिए।

न्यायमूर्ति अरुण मिश्रा की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा, हम कैसे नहीं कर सकते? हर कोई हमारी आलोचना कर रहा है कि हमने उसकी प्रतिक्रिया पर विचार नहीं किया है। पीठ ने कहा कि इसके अनुसार भूषण की प्रतिक्रिया और भी अपमानजनक है।

जब एजी ने जोर देकर कहा कि भूषण दोबारा ऐसा नहीं करेंगे। इस पर न्यायमूर्ति मिश्रा ने कहा, उन्हें खुद ये कहने दें।

वेणुगोपाल ने शीर्ष अदालत से भूषण को माफ करने का आग्रह किया और कहा कि उन्हे दंडित करना आवश्यक नहीं है। अदालत ने एजी को बताया कि अधिवक्ता भूषण के खिलाफ एक साल पहले सिर्फ एक गलत आरोप के लिए अवमानना की कार्रवाई शुरू की थी और खेद व्यक्त करने के बाद ही उसे वापस ले लिया था, लेकिन यहां ऐसा नहीं है।

एजी ने पीठ के समक्ष प्रस्तुत किया कि भूषण ने 2009 के मामले में खेद व्यक्त किया है और उन्हें इस मामले में भी ऐसा करने की अनुमति दी जानी चाहिए। शीर्ष अदालत ने भूषण को दो ट्वीट के माध्यम से न्यायपालिका के खिलाफ अपमानजनक बयान देने के लिए दोषी ठहराया है। भूषण ने माफी मांगने से इनकार कर दिया है।

न्यायमूर्ति मिश्रा ने भूषण के जवाब पर इशारा करते हुए एजी से कहा, कृपया उनका जवाब पढ़ें और देखें कि उन्होंने क्या कहा है कि शीर्ष अदालत का पतन हो गया है। पीठ ने एजी से कहा, क्या ये आपत्तिजनक नहीं है?

मामले पर सुनवाई जारी है।

–आईएएनएस

एकेके/एएनएम

National Dunia से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर लाइक और Twitter, YouTube पर फॉलो करें.

- Advertisement -
सुप्रीम कोर्ट : भूषण की प्रतिक्रिया अधिक अपमानजनक है, एजी ने कहा, माफ कर दीजिए 2
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी में 725 तक बढ़ाए जाएंगे फुल टाइम फैकल्टी

नई दिल्ली, 22 सितम्बर (आईएएनएस)। ओ. पी. जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी (जेजीयू) ने अपने शैक्षणिक सत्र 2020-2021 में 165 नए फैकल्टी मेंबर्स को शामिल...
- Advertisement -

विराट भईया से काफी कुछ सीखा : देवदूत पडिकल

दुबई, 22 सितंबर (आईएएनएस)। सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर की जीत में अहम रोल निभाने वाले बाएं हाथ के बल्लेबाज देवदूत पडिकल...

दिल्ली हिंसा चार्जशीट में खुलासा : विरोध प्रदर्शन के प्रबंधन के लिए 1 करोड़ रुपये खर्च किए गए

नई दिल्ली, 22 सितम्बर (आईएएनएस)। दिल्ली हिंसा मामले में कथित साजिश के सिलसिले में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल द्वारा हाल ही में दायर...

महिला क्रिकेट : इंग्लैंड ने पहले टी-20 में विंडीज को हराया

लंदन, 22 सितंबर (आईएएनएस)। टैमी बेयुमोंट के अर्धशतक की बदौलत इंग्लैंड महिला क्रिकेट टीम ने डबीर्शायर क्रिकेट ग्राउंड पर खेले गए पहले टी-20 मैच...

Related news

सचिन पायलट को फंसाने चले थे, अशोक गहलोत खुद आये लपेटे में

भोपाल/जयपुर। मध्य प्रदेश की 28 सीटों पर होने वाले उपचुनाव को लेकर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और मध्य प्रदेश के पूर्व...

प्रधान पिंकी चौधरी की अशोक को छोड़ नए प्रेमी के साथ भागने की अफवाह?

बाड़मेर। जिले के समदड़ी पंचायत समिति क्षेत्र से प्रधान पिंकी चौधरी के 1 महीने पहले अपने प्रेमी अशोक चौधरी के साथ भागने...

आईपीएल-13 : कोहली की बेंगलोर के सामने वार्नर की सनराइजर्स

दुबई, 21 सितंबर (आईएएनएस/ग्लोफैंस)। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सीजन में सोमवार को दुबई इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर का सामना...

भारत में 18 से 24 वर्ष की 37% महिलाएं रखती हैं लंबे समय तक सैक्स सम्बंध

-भारत में 19% महिलाओं को स्मार्टफोन पर रहती हैं पार्टनर की तलाश, देश की 62% महिलाएं कर रहीं ये काम।
- Advertisement -