31 C
Jaipur
सोमवार, अगस्त 10, 2020

कंग्रेस की मांग, एलएसी पर यथास्थिति बहाल हो

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली, 23 जुलाई (आईएएनएस)। ऐसी रिपोर्टे सामने आने के बाद कि भारत और चीन के कोर कमांडरों बीच चार दौर की बातचीत में सहमति बनने के बावजूद चीन की पीपल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) गहराई वाले क्षेत्रों से पीछे नहीं हट रही है और एलएसी में करीब 40,000 सैनिक मौजूद हैं, कांग्रेस ने इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री और रक्षा मंत्री की चुप्पी पर सवाल उठाया है।
कांग्रेस ने मई 2020 के पहले की यथास्थिति बहाल करने की मांग की है।

एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए, कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता अजय माकन ने पूछा, मोदी सरकार मई 2020 से पहले की स्थिति को बनाए रखने और बहाल करने का प्रस्ताव कैसे करती है और इसकी नीति, रणनीति और आगे का रास्ता क्या है।

माकन ने कहा, हमारी क्षेत्रीय अखंडता या राष्ट्रीय सुरक्षा पर कभी कोई समझौता नहीं हो सकता। प्रधानमंत्री चीनी अतिक्रमण से अलग इन महत्वपूर्ण मुद्दों से पल्ला नहीं झाड़ सकते और हमारी सीमा पर चीनी सैनिकों की मौजूदगी हमारे क्षेत्र के लिए खतरा है।

कांग्रेस नेता ने कहा कि यह मसला इस तथ्य के मद्देनजर महत्वपूर्ण है कि अभी 3 दिन पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने स्पष्ट रूप से कहा था कि जारी वार्ता के माध्यम से समाधान निकलने की कोई गारंटी नहीं है।

इस मुद्दे पर लोगों को गुमराह करने के लिए सरकार की आलोचना करते हुए कांग्रेस नेता ने कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा या भारत की क्षेत्रीय अखंडता पर कोई समझौता नहीं हो सकता है।

कांग्रेस ने सरकार से छह सवाल किए। इसने कहा कि सर्दियां आ रही हैं और चीनी पीएलए के सैनिक नहीं हट रहे हैं।

माकन ने पूछा, क्या सरकार को 40,000 पीएलए सैनिकों के बारे में पता है जो अभी भी हमारे क्षेत्र से वापस नहीं जा रहे हैं? आरएम, एफएम और पीएम इस तरह के महत्वपूर्ण मसले के बारे में चुप क्यों हैं?

कांग्रेस ने पूछा कि इस रिपोर्ट के बाद क्या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को गुमराह किया है और रक्षा मंत्री के बयान का क्या मतलब है और क्या मोदी सरकार ने चीनी अतिक्रमण स्वीकार किया है और क्या यह भी स्वीकार किया है कि उनके पास चीनी सैनिकों को पीछे हटाने का कोई समाधान नहीं है।

कांग्रेस ने दौलत बेग ओल्डी और देपसांग सेक्टर में चीन के निर्मार्णो पर सरकार से स्पष्टीकरण मांगा है और इस पर भी स्पष्टीकरण मांगा है कि क्या चीन ने फिंगर 4 से फिंगर 8 के बीच पैंगोंग त्सो झील क्षेत्र में हमारे क्षेत्र के 8 किलोमीटर क्षेत्र पर कब्जा करना जारी रखा है।

–आईएएनएस

National Dunia से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर लाइक और Twitter, YouTube पर फॉलो करें.

- Advertisement -
कंग्रेस की मांग, एलएसी पर यथास्थिति बहाल हो 2
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

सुप्रीम कोर्ट प्रशांत भूषण के अवमानना मामले की करेगी सुनवाई

नई दिल्ली, 10 अगस्त (आईएएनएस)। उच्चतम न्यायालय ने सोमवार को कहा है कि वह 2009 में वकील प्रशांत भूषण के खिलाफ दर्ज हुए अवमानना...
- Advertisement -

पीएम ने अंडमान-निकोबार को एएफसी कनेक्टीवीटी का तोहफा दिया

नई दिल्ली, 10 अगस्त (आईएएनएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को चेन्नई और पोर्ट ब्लेयर को जोड़ने वाली एक पनडुब्बी ऑप्टिकल फाइबर केबल (ओएफसी)...

लोग सफल महिलाओं से डर जाते हैं: स्वास्तिका मुखर्जी

मुंबई, 10 अगस्त (आईएएनएस) दुष्कर्म की धमकियों के साथ ट्रोल का शिकार हुई लोकप्रिय बंगाली अभिनेत्री स्वस्तिका मुखर्जी ने हाल ही में बहुत सारी...

महामारी के कारण तिरंगे की बिक्री में आई भारी गिरावट

लखनऊ, 10 अगस्त (आईएएनएस)। कोरोनावायरस महामारी के कारण स्कूल, कॉलेज और ज्यादातर निजी प्रतिष्ठान बंद हैं, जिसके चलते स्वतंत्रता दिवस के कार्यक्रमों को लेकर...

Related news

आत्म-निर्भर भारत पर निबंध लिखेंगे देशभर के छात्र

नई दिल्ली, 6 अगस्त (आईएएनएस)। स्वतंत्रता दिवस समारोह के उपलक्ष्य में माईगव के साथ साझेदारी में शिक्षा मंत्रालय देश भर में स्कूली छात्रों के...

हर 100 साल में आती है महामारी, 1720, 1820, 1920 और अब 2020 में भयानक Covid-19

रामगोपाल जाट कोरोना वायरस की चपेट में अब पूरी दुनिया आ चुकी है। सबसे ज्यादा करीब 5500 मौतें चीन में हुई है। चीन के एक...

वसुंधरा-गहलोत दोनों एक दूसरे के भ्रष्टाचार पर पर्दा डालते हैं: बेनीवाल

जयपुर। राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के संयोजक और नागौर से सांसद हनुमान बेनीवाल ने एक बार फिर से मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पूर्व...

जयपुर के जाने-माने न्यूरोसर्जन dr Rajvendra singh choudhary ने एक साल में किये 600 से ज्यादा ऑपरेशन

jaipur news राजस्थान में बेस्ट न्यूरोसर्जन (best neurosurgeon) का अवार्ड जीत चुके वरिष्ठ न्यूरोसर्जन डॉ. राजवेंद्र सिंह चौधरी (dr Rajvendra singh choudhary)...
- Advertisement -