31 C
Jaipur
शनिवार, अगस्त 15, 2020

चीन पर कर्ज के भारी बोझ ने रेटिंग एजेंसियों का ध्यान खींचा

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली, 7 जुलाई (आईएएनएस)। एक बार फिर निगाहें चीन पर हैं और एक बार फिर यह किसी अच्छी वजह से नहीं हैं। 2020 की पहली तिमाही में चीन की अर्थव्यवस्था में 6.8 प्रतिशत की कमी आई और अप्रैल में इसकी बेरोजगारी दर 6.2 प्रतिशत को छू गई, लेकिन जिस चीज ने रेटिंग एजेंसियों का ध्यान चीन की ओर खींचा है, वह है इसकी बेतहाशा बढ़ती ऋण समस्या। वर्तमान में इसका डेट-टू-जीडीपी अनुपात 317 प्रतिशत है।

मुख्य रूप से रियल एस्टेट और शैडो बैंकिंग से प्रेरित देश का कुल कर्ज पिछले एक दशक में लगातार बढ़ा है।

चीन ने चतुराई से उचित स्तर पर केंद्र सरकार द्वारा प्रत्यक्ष उधार लिया है लेकिन स्थानीय सरकारों और उनकी कंपनियों और बैंकों के खाते एक ऐसे मकड़जाल में हैं जिसका विश्लेषण करना मुश्किल है।

कमेटी आफ द एबोलिशन आफ इल्लीजिटिमेट डेट के दिसंबर 2018 के एक अध्ययन के अनुसार, केंद्र सरकार बड़े विदेशी मुद्रा भंडार से अधिक लाभान्वित नहीं हुई है लेकिन क्षेत्रीय सरकारों ने 2007 से असुरक्षित वित्तीय कार्यों का विस्तार किया है और अक्सर ऑफ-द-काउंटर ऋण या शैडो बैंकिंग का सहारा लेती हैं।

चीन में कॉर्पोरेट ऋण, जिसमें राज्य के खुद के उद्यम और निजी कंपनियों का कर्ज शामिल है, सबसे बड़ा हिस्सा है। यह तब भी बढ़ रहा है जब इसका बाहरी ऋण कम बना हुआ है।

दो रेटिंग एजेंसियों के वरिष्ठ अधिकारियों ने इस मुद्दे पर प्रकाश डालने से इनकार कर दिया।

चूंकि चीन को कोरोनोवायरस की महामारी से निपटने, सूचनाओं को दबाने और भारत सहित कई देशों के साथ सैन्य तनाव के लिए दुनिया में अलग-थलग होना पड़ा है, ऐसे में अभी तक ड्रैगन राष्ट्र के साथ उदार रुख अपनाने वाली रेटिंग एजेंसियां जल्द ही एक सख्त रुख अपना सकती हैं।

देश से सूचना प्रवाह का अपारदर्शी रूप भी चिंता में इजाफा कर रहा है।

एक विश्लेषक ने कहा, यह जल्द ही रेटिंग एजेंसियों के ध्यान में आ जाएगा क्योंकि चीन और उसके कामकाज पर वैश्विक दबाव बढ़ रहा है।

चाइनापॉवर ने लिखा है, चीन का उधार पारंपरिक रूप से प्रमुख राज्य-नियंत्रित बैंकों से आता रहा है, लेकिन अब इसमें कम पारदर्शी वैकल्पिक उधार स्रोतों की ओर बदलाव हुआ है जो उच्च जोखिम वाले ऋण पैदा कर सकते हैं और चीन के ऋण संकट को बढ़ा सकते हैं। यह उधार कई बार छोटे स्थानीय विनियमित निवेश बेचने वाले प्रांतीय बैंकों के माध्यम से आ रहा है।

चीन एशिया और अफ्रीका के विभिन्न देशों को अपनी महत्वाकांक्षी बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव (बीआरआई) के तहत लापरवाही से कर्ज दे रहा है। राज्य के स्वामित्व वाले उद्यमों और बैंकों के साथ-साथ द्विपक्षीय रूप से यह कर्ज दिए जा रहे हैं। महामारी से प्रेरित तीव्र मंदी की मार झेल रहे इनमें से कई देश ड्रैगन राष्ट्र को कर्ज चुकाने की स्थिति में नहीं हैं। इससे चीन को कर्जो की रिस्ट्रक्चरिंग करनी पड़ रही है। यह राष्ट्रपति शी जिनपिंग के लिए अधिक चिंता की बात हो सकती है क्योंकि वह वैश्विक स्तर पर अभूतपूर्व आलोचनाओं का सामना कर रहे हैं जबकि उनकी लोकप्रियता घरेलू स्तर पर गिर गई है।

चीन का प्रोत्साहन पैकेज भले ही उसके सकल घरेलू उत्पाद का लगभग 4.5 प्रतिशत है लेकिन यह आर्थिक सुस्ती से निपटने के लिए अपर्याप्त है और उच्च स्तर के ऋण के साथ, एक उच्च बूस्टर की संभावना के लिए बहुत कम जगह है।

(यह सामग्री इंडियानैरेटिव डॉट कॉम के साथ व्यवस्था के तहत प्रस्तुत की गई)

–आईएएनएस

National Dunia से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर लाइक और Twitter, YouTube पर फॉलो करें.

- Advertisement -
चीन पर कर्ज के भारी बोझ ने रेटिंग एजेंसियों का ध्यान खींचा 2
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

चेपतेगेई ने डायमंड लीग में तोड़ा विश्व रिकार्ड

पेरिस, 15 अगस्त (आईएएनएस)। 10,000 मीटर के विश्व विजेता युगांडा के जोशुआ चेपतेगेई ने मोनाको में हुई डायमंड लीग में शानदार वापसी करते हुए...
- Advertisement -

एसीयू ने मैदान पर स्मार्टवॉच पहनने वाले अंपायर केटलब्रो से पूछताछ की

साउथैम्पटन, 15 अगस्त (आईएएनएस)। अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) की भ्रष्टाचार रोधी ईकाई (एसीयू) ने इंग्लैंड और पाकिस्तान के बीच यहां खेले जा रहे दूसरे...

आईओए ने 74वें स्वतंत्रता दिवस पर एक इंडिया टीम इंडिया अभियान शुरू किया

नई दिल्ली, 15 अगस्त (आईएएनएस)। भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) ने 74वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर शनिवार को एक इंडिया टीम इंडिया डिजिटल अभियान...

व्हाट्सएप प्रतिद्वंद्वी टेलीग्राम ने जोड़ा वीडियो कॉल सपोर्ट

नई दिल्ली, 15 अगस्त (आईएएनएस)। व्हाट्सएप के सबसे करीबी प्रतिद्वंद्वी टेलीग्राम ने घोषणा की है कि वह अपने सभी डेस्कटॉप और मोबाइल एप में...

Related news

Jaipur rain: जयपुर में 1981 जैसे बाढ़ के हालात, विधायक भी फंसे

जयपुर। राजस्थान की राजधानी जयपुर में सुबह 3:00 बजे से शुरू हुई भारी बरसात का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा...

आत्म-निर्भर भारत पर निबंध लिखेंगे देशभर के छात्र

नई दिल्ली, 6 अगस्त (आईएएनएस)। स्वतंत्रता दिवस समारोह के उपलक्ष्य में माईगव के साथ साझेदारी में शिक्षा मंत्रालय देश भर में स्कूली छात्रों के...

भारत-पाक विभाजन का असली गुनाहगार कौन?

Jaipur आज भारत का 73 वां स्वतंत्रता दिवस है, इससे पहले 14 अगस्त को यानी 1 दिन पहले पाकिस्तान का 73 वां स्वतंत्रता दिवस था। अखंड...

NRC (National Register of citizen) और CAB (Citizenship Ammendment Bill) के बाद क्या हैं PCB और UCC…?

New delhiकेंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा इसी सप्ताह नागरिकता संशोधन विधेयक (Citizenship Ammendment Bill), यानी CAB पास करवाने के बाद गुरुवार...
- Advertisement -