37 C
Jaipur
शनिवार, जुलाई 4, 2020

बिहार में आकाशीय बिजली की चपेट में आने से 83 लोगों की मौत(लीड-1)

- Advertisement -
- Advertisement -

पटना, 25 जून (आईएएनएस)। बिहार के गोपालगंज सहित राज्य के कई जिलों के अलग-अलग क्षेत्रों में गुरुवार को आकाशीय बिजली (वज्रपात) गिरने से 83 लोगों की मौत हो गई है जबकि कई लोगों के झुलसने की खबर है। इसमें सबसे अधिक 13 लोगों की मौत गोपालगंज जिले में हुई है।
राज्य के आपादा प्रबंधन विभाग द्वारा जारी अधिकारिक सूचना में कहा गया है कि गुरुवार को राज्य के अलग-अलग क्षेत्रों में वज्रपात की चपेट में आने से 83 लोगों की मौत हुई है।

विभाग के मुताबिक, सबसे अधिक 13 लोगों की मौत गोपालगंज जिले में हुई है वहीं आकाशीय बिजली गिरने से मधुबनी व नवादा जिले में आठ-आठ, भागलपुर और सीवान में छह-छह, बांका, दरभंगा व पूर्वी चंपारण जिले में पांच-पांच लोगों की मौत हुई है। इसके अलावे खगडिया व औरंगाबाद में तीन-तीन, जहानाबाद, किशनगंज, पश्चिमी चंपारण, जमुई, पूर्णिया, सुपौल, कैमूर तथा बक्सर में दो-दो और सारण, शिवहर, समस्तीपुर, मधेपुरा व सीतामढ़ी में वज्रपात से एक-एक लोगों की मौत हुई है।

इधर, गोपालगंज के जिलाधिकारी अरशद अजीज ने गुरुवार को आईएएनएस को बताया कि जिले में वज्रपात से 13 लोगों की मौत हुई है। उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि लोग बारिश के दौरान घरों से बाहर ना निकलें तथा बारिश से बचने के लिए किसी भी वृक्ष का सहारा ना लें।

उन्होंने बताया कि थावे थाना क्षेत्र के नाराणपुर गांव में वज्रपात से मुस्तफा अहमद (30) और अफरोज आलम (28) की मौत हो गई जबकि उचकागांव के लुहसी गांव में कृष्णा कुमार (21) और नौतन हरैया गांव में अजीम आलम (40) की मौत हो गई।

मांझा थाना क्षेत्र के शेख परसा गांव निवासी गणेश साह की तथा विजयीपुर के चखनी टोला निवासी अजमेरी खातून (10) की मौत वज्रपात की चपेट में आने से हो गई।

उन्होंने बताया कि बरौली थाना क्षेत्र के बखरौर में वज्रपात की चपेट में आने से रीना देवी (35) तथा खजुरिया गांव में राजाराम यादव (45) साल की मौत हो गई।

इसके अलावा, बरौली के बघेजी गांव में चंपा देवी (35) तथा सोनबरसा गांव में आनंद महतो (40 ) की मौत आकाशीय बिजली की चपेट में आने से हो गई। मीरगंज थाना क्षेत्र में विशंभरपुर गांव में निरंजन कुमार (23) की तथा हथुआ थाना क्षेत्र में अंकित कुमार और कटैया थाना क्षेत्र में मुन्नी देवी की मौत वज्रपात की चपेट में आने से हो गई है।

जिलाधिकारी ने बताया कि आकाशीय बिजली गिरने की घटना में कम से कम छह लोगों के झुलसने की खबर है।

–आईएएनएस

National Dunia से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर लाइक और Twitter, YouTube पर फॉलो करें.

- Advertisement -
बिहार में आकाशीय बिजली की चपेट में आने से 83 लोगों की मौत(लीड-1) 2
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

पालघर : दुकानदार ने महिला के शव के साथ किया दुष्कर्म

मुंबई, 4 जुलाई (आईएएनएस)। महाराष्ट्र के पालघर में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। एक दुकानदार ने 32 वर्षीय एक महिला ग्राहक की कथित...
- Advertisement -

जूम पर 13500 खर्च करने की जरूरत नहीं, जियोमीट पर 100 लोग कर मुफ्त वीडियो कॉलिंग

नई दिल्ली, 4 जुलाई (आईएएनएस)। रिलायंस जियो ने जियोमीट नाम से वीडियो कांफ्रेंसिंग के लिए नया ऐप बाजार में उतारा है। जियोमीट में 100...

तूतीकोरिन हिरासत में मौत मामले में निलंबित कांस्टेबल गिरफ्तार

चेन्नई, 4 जुलाई (आईएएनएस)। तमिलनाडु पुलिस के अपराध शाखा-अपराध जांच विभाग (सीबीसीआईडी) ने निलंबित कांस्टेबल मुथुराज को गिरफ्तार कर लिया है।पी. जयराज और उनके...

विश्व में 80 प्रतिशत कोविड संक्रमण के कारण 30 प्रतिशत लोग बने संक्रामक

सैन फ्रांसिस्को, 4 जुलाई (आईएएनएस) चान जुकरबर्ग बायोहब (सीजेडबी) की एक डेटा वैज्ञानिक डॉ. लुसी ली का कहना है कि दुनियाभर में कोविड-19 संक्रमण...

Related news

3 माह से वेतन नहीं, सैंकड़ों कर्मचारियों की कोरोनाकाल में भूखे मरने की नौबत आई

-वेतन नहीं मिला तो कर्मचारी पहुंचे न्यायालय की शरणजयपुर। कोरोना संक्रमण काल के दौरान भी काम कर रहे...

2 साल 2 माह के मुख्य सचिव डीबी गुप्ता को राजस्थान सरकार ने आधी रात क्यों हटाया?

जयपुर राजस्थान सरकार ने गुरुवार आधी रात राज्य की ब्यूरोक्रेसी में बड़ा बदलाव करते हुए भारतीय प्रशासनिक सेवा के...

मोदी चीन के फ्रंट पर, इधर डॉ. पूनियां कोरोना वॉरियर के फ्रंट पर पहुंचे

जयपुर ऐसा लग रहा है जैसे 24 में 18 घन्टे काम कर दुनिया को चौंकाने वाले नरेंद्र मोदी की...

वसुंधरा से दूरियां, डॉ. सतीश पूनियां से नजदीकियां, आखिर क्या मंत्र है राठौड़ का?

जयपुर।राजस्थान विधानसभा में उप नेता प्रतिपक्ष और पिछली वसुंधरा राजे सरकार में पंचायती राज मंत्री रहे चूरू के विधायक राजेंद्र सिंह राठौड़...
- Advertisement -