30 C
Jaipur
रविवार, जुलाई 5, 2020

मप्र : अंतर्राज्यीय चौकियां खत्म होने से व्यापारी खुश, किसानों के मन में सवाल

- Advertisement -
- Advertisement -

भोपाल, 25 जून (आईएएनएस)। भारत सरकार के एक अध्यादेश का पालन करते हुए मध्य प्रदेश सरकार ने अंतर्राज्यीय सीमा जांच चौकियों को खत्म करने का फैसला किया है। इस फैसले से जहां व्यापारी खुश हैं, वहीं किसानों के मन में सवाल उठ रहे हैं।
राज्य के कृषि विपणन बोर्ड के आयुक्त सह प्रबंध संचालक संदीप यादव ने एक आदेश जारी कर सभी संयुक्त संचालकों और उप संचालकों को बताया है कि पांच जून को भारत सरकार द्वारा पारित अध्यादेश के तहत राज्य की सीमा पर विभिन्न जिलों में स्थित समस्त निरीक्षण चैकियों के साथ साथ पथ अवरोध (बैरियर) संचालन का अब कोई औचित्य नहीं है।

इस नई व्यवस्था के चलते कृषि उपज को कृषि उपज मंडी या मंडी क्षेत्र के बाहर ले जाने और लाने की अनुमति दी गई है, जिससे अब राज्य की सीमाओं पर स्थित चौकियों का कोई काम ही नहीं बचा है।

आदेश में आगे कहा गया है कि राज्य की सीमा पर स्थित विभिन्न जांच चौकियों (अंतर्राज्यीय सीमा जांच चौकियों) को तत्काल प्रभाव से बंद किया जाता है। इन स्थानों पर तैनात कर्मचारियांे और अधिकारियों की मंडियों में वापस पदस्थापना की जाती है।

भारत सरकार के अध्यादेश पर राज्य सरकार ने 20 दिन बाद अमल किया है। नीमच के मनासा व्यापारी संघ के अश्विनी झंवर का कहना है कि यह भारत सरकार का अध्यादेश है, इसलिए इसे लागू तो करना ही पड़ेगा। इस नई व्यवस्था के चलते कृषि उपज का व्यापार निर्बाध गति से चल सकेगा। किसान देश के किसी भी हिस्से में अपनी उपज को बेच सकेगा, वहीं व्यापारी किसी भी हिस्से के किसान से उपज खरीद सकेगा। इससे व्यापारी और किसान दोनों को लाभ होगा।

वहीं किसान नेता केदार सिरोही का कहना है कि यह किसानों के लिए आने वाले वर्षों में धीमा जहर साबित होगा, क्योंकि किसानों तक सीधे व्यापारी की पहुंच होगी और वह अभी तो किसानों को उचित दाम देगा मगर वक्त गुजरने के साथ व्यापारी का प्रभाव बढ़ेगा और किसान से वह औने-पौने दाम पर माल उसके घर व गोदाम पर पहुंचकर ले आएगा। न्यूनतम मूल्य के लिए वर्षों तक जो लड़ाई लड़ी गई है, वह आने वाले समय में बेकार हो जाए तो अचरज नहीं होगा।

–आईएएनएस

National Dunia से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर लाइक और Twitter, YouTube पर फॉलो करें.

- Advertisement -
मप्र : अंतर्राज्यीय चौकियां खत्म होने से व्यापारी खुश, किसानों के मन में सवाल 2
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

दिल्ली में कोरोना से 81 और मरे, अब तक 3 हजार व्यक्तियों की मौत

नई दिल्ली, 4 जुलाई (आईएएनएस)। दिल्ली में कोरोना वायरस के कारण 3 हजार से अधिक लोगों की मृत्यु हो चुकी है। शनिवार को ही...
- Advertisement -

देश में प्रतिदिन 2.50 लाख कोरोना जांच की क्षमता : अश्विनी चौबे

पटना, 4 जुलाई (आईएएनएस)। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने शनिवार कहा कि देशवासियों को कोरोनावायरस को लेकर घबराने...

यू-20 विश्व कप स्थलों का निरीक्षण करेगी फीफा

जकार्ता, 4 जुलाई (आईएएनएस)। फीफा का प्रतिनिधिमंडल सितंबर में अंडर-20 विश्व कप-2021 के मैच स्थलों के निरीक्षण के लिए इंडोनेशिया का दौरा करेगा।इंडोनेशिया फुटबाल...

आईओए अधिकारी ने कोषाध्यक्ष के खिलाफ जांच शुरू करने की मांग की

नई दिल्ली, 4 जुलाई (आईएएनएस)। भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) के कार्यकारी सदस्य भोलानाथ सिंह ने राष्ट्रीय ओलंपिक संघ के अध्यक्ष नरिंदर बत्रा और खेल...

Related news

3 माह से वेतन नहीं, सैंकड़ों कर्मचारियों की कोरोनाकाल में भूखे मरने की नौबत आई

-वेतन नहीं मिला तो कर्मचारी पहुंचे न्यायालय की शरणजयपुर। कोरोना संक्रमण काल के दौरान भी काम कर रहे...

थानाधिकारी सुसाइड मामले में आरोपित की गईं राजस्थान के एक विधायक को मुख्यमंत्री से भी बड़ी सुरक्षा प्रदान की गई है

जयपुर पिछले दिनों चूरू में सादुलपुर थाना अधिकारी विष्णु दत्त विश्नोई के सुसाइड मामले में विपक्षियों द्वारा जिस विधायक...

वसुंधरा से दूरियां, डॉ. सतीश पूनियां से नजदीकियां, आखिर क्या मंत्र है राठौड़ का?

जयपुर।राजस्थान विधानसभा में उप नेता प्रतिपक्ष और पिछली वसुंधरा राजे सरकार में पंचायती राज मंत्री रहे चूरू के विधायक राजेंद्र सिंह राठौड़...

2 साल 2 माह के मुख्य सचिव डीबी गुप्ता को राजस्थान सरकार ने आधी रात क्यों हटाया?

जयपुर राजस्थान सरकार ने गुरुवार आधी रात राज्य की ब्यूरोक्रेसी में बड़ा बदलाव करते हुए भारतीय प्रशासनिक सेवा के...
- Advertisement -