टायर समेत इन 150 चीजों के चीन से आयात सख्त हुआ भारत, पूर्ण पाबंदी समेत बढ़ाया भारी शुल्क

नई दिल्ली

चीन के साथ भारत का लद्दाख में, जो तनाव चल रहा है, उसके मद्देनजर भारत सरकार ने चीन से भारत में आयात होने वाले टायरों समेत 150 चीजों पर पाबंदी समेत आयात शुल्क बढ़ाने का निर्णय लिया है।

चीन से आयात होने वाले बस, ट्रक, कार, मोटरसाइकिल और साइकिल के रबड़ टायरों पर पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया है। अब भारत में 12 जून के बाद इनमें से एक भी टायर का चीन से आयात नहीं किया गया है।

डीजीएफटी से लाइसेंस के बाद ही होगा यार

भारत सरकार ने स्पष्ट तौर पर कहा है कि चीन से आयात होने वाले सामानों की सूची में इन 150 वस्तुओं का आयात तभी हो सकेगा, जब भारत के आयातक डीजीएफटी से आयात के लिए लाइसेंस लेकर आयात करेंगे।

पिछले साल लगाया था दूध समेत कृषि जींस पर भी प्रतिबंध है

आपको बता दें कि इससे पहले पिछले साल भी भारत सरकार ने दूध, दूध से बने उत्पाद और कृषि से जुड़े हुए उत्पादों पर भी चीन के आयात पर प्रतिबंध लगाया था।

150 चीजों पर सख्ती कर रही है सरकार

केंद्र सरकार ने चीन से आयात होने वाले 47 अरब डॉलर की 150 वस्तुओं पर सख्ती कर दी है। इनमें इलेक्ट्रॉनिक आइटम, एयर कंडीशनर, प्रेशर कुकर, साइकिल और चीन से निर्मित खिलौनों को शामिल किया गया है। इसके साथ ही चीन से आयात होने वाले अगरबत्ती के बांस पर भी आयात शुल्क बढ़ा दिया है।

पड़ोसी देश केंद्र सरकार से अनुमति लेकर ही कर सकते हैं निवेश

अब तक भारत में निवेश करने के लिए राज्य सीधे पड़ोसी देशों से संपर्क कर निवेश को बढ़ावा दे सकते थे, लेकिन केंद्र सरकार ने सख्त कदम उठाते हुए भारत की सीमाओं से लगने वाले पड़ोसी देशों के निवेश को प्रतिबंधित कर दिया है और केंद्र सरकार की अनुमति के बिना कोई भी देश किसी भी राज्य में निवेश नहीं कर सकता।

यह भी पढ़ें :  खुलासा: चीन का जैविक हथियार ही है कोविड-19, पढ़िए सभी तथ्यों से पर्दा उठाती यह विशेष रिपोर्ट