29 C
Jaipur
रविवार, जुलाई 12, 2020

सर्वोपयोगी क्रियात्मक योग गुरु गोरक्षनाथ की देन : योगी

- Advertisement -
- Advertisement -

लखनऊ, 20 जून (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को कहा कि योग के मूल आचार्य भगवान शिव हैं। लेकिन मानव जगत के लिए योग का दार्शनिक पक्ष महर्षि पतंजलि और व्यावहारिक या क्रियात्मक पक्ष महायोगी श्री गुरु गोरखनाथ की देन है। योग का यह क्रियात्मक पक्ष हर उम्र के व्यक्ति के लिए उपयोगी है।
मुख्यमंत्री अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की पूर्व संध्या पर महाराणा प्रताप शिक्षा परिषद एवं महायोगी गोरक्षनाथ योग संस्थान की ओर से योग पर आयोजित ऑनलाइन कार्यशाला को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि क्रियात्मक पक्ष महायोगी श्री गुरु गोरखनाथ की देन है। योग का यह क्रियात्मक पक्ष हर उम्र के व्यक्ति के लिए उपयोगी है। इनके जरिए वह शारीरिक एवं मानसिक स्वास्थ प्राप्त करने के साथ आध्यात्मिक जगत के रहस्यों को भी समझ सकता है। आध्यात्मिक रहस्य को जानने के लिए शरीर और मन का स्वस्थ्य होना जरूरी है। और यह योग द्वारा ही संभव है। हर किसी को अपनी दिनचर्या में योग को अनिवार्य रूप से शामिल करना चाहिए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि योग मूलत: भारत की थाती है। प्रधानमंत्री ने इसे वैश्विक सम्मान दिलाकर सराहनीय कार्य किया। आज यह दिवस 200 से अधिक देशों में मनाया जाता है। इसका मतलब यह भी है कि इतने देशों से अपनी विरासत के जरिए भारत आत्मीय संवाद भी बनाता है। महामारी के कारण योग का यह कार्यक्रम इस बार सामूहिक रूप से संभव नहीं। लिहाजा, अपने घरों में परिवार के साथ योग करें।

उन्होंने कहा, क्या करना है, कैसे करना है, इसके लिए केंद्रीय आयुष मंत्रालय ने एक कॉमन योगा प्रोटोकॉल जारी किया है। आप योग करते हुए अपनी फोटो या वीडियो भी उस प्लेटफॉर्म पर अपलोड कर सकते हैं। केंद्र और राज्य सरकार अच्छे योगाभ्यासियों को पुरस्कृत भी करेगी।

उन्होंने कहा कि कोरोना से घबराएं नहीं। इस सदी का यह सबसे कमजोर वायरस है। बस, इसके संक्रमण की गति तेज है। इसके संक्रमण से खुद को बचाना होगा। खासकर बच्चे, बुजुर्ग एवं जिनको पहले से ही कोई रोग है, वे इस संक्रमण के प्रति सर्वाधिक संवेदनशील रहें।

योगी ने कहा कि पूर्व के वर्षो में इस दौरान योग शिविर लगते थे। योग के व्यावहारिक और सैद्धांतिक पक्ष पर भी विशेषज्ञ चर्चा करते थे, पर बदले हालात में ऐसा संभव नहीं। यहीं डिजिटल प्लेटफॉर्म की प्रासंगिकता बढ़ जाती है।

–आईएएनएस

National Dunia से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर लाइक और Twitter, YouTube पर फॉलो करें.

- Advertisement -
सर्वोपयोगी क्रियात्मक योग गुरु गोरक्षनाथ की देन : योगी 2
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

कोरोना महामारी के बीच 77 प्रतिशत कंपनियों का राजस्व गिरा : रिपोर्ट

नई दिल्ली, 12 जुलाई (आईएएनएस)। कोविड-19 महामारी के मौजूदा संकट के परिणामस्वरूप लगभग 77 प्रतिशत व्यापारिक संगठनों के राजस्व में गिरावट आई है। यह...
- Advertisement -

स्टाइरियन ग्रां प्री : हैमिल्टन ने जीती रेस

स्पीलबर्ग, 12 जुलाई (आईएएनएस)। छह बार के फॉमूर्ला वन चैंपियन मर्सिडीज टीम के ड्राइवर लुइस हैमिल्टन ने रविवार को यहां रेड बुल रिंग में...

भारत को एक मनमोहन सिंह की जरूरत : शरद पवार

मुंबई, 12 जुलाई (आईएएनएस)। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी(राकांपा) के अध्यक्ष शरद पवार ने यहां रविवार को कहा कि मौजूदा वित्तीय स्थिति को देखते हुए भारत...

अशोक गहलोत सरकार अल्पमत में : सचिन पायलट

जयपुर, 12 जुलाई (आईएएनएस)। राजस्थान के उप मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता सचिन पायलट सोमवार को प्रस्तावित पार्टी की बैठक में हिस्सा नहीं लेंगे और...

Related news

राजस्थान : 2 नोटिस की कहानी, जिस कारण पायलट विद्रोह पर आमादा

नई दिल्ली, 12 जुलाई (आईएएनएस)। राजस्थान में कांग्रेस की सरकार गिराने कथित रूप से विधायकों को रिश्वत देने के मामले में स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप...

SOG के नोटिस पर अशोक गहलोत ने मीडिया पर उड़ेला मामला

जयपुर। राजस्थान में राजनीतिक जोड़-तोड़ का कार्यक्रम तेजी से आगे बढ़ रहा है। राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के द्वारा एक दिन...

हर 100 साल में आती है महामारी, 1720, 1820, 1920 और अब 2020 में भयानक Covid-19

रामगोपाल जाट कोरोना वायरस की चपेट में अब पूरी दुनिया आ चुकी है। सबसे ज्यादा करीब 5500 मौतें चीन में हुई है। चीन के एक...

विश्लेषण: पानी के बाहर मछली की तरह छटपटाती वसुंधरा और वजूद ढूंढ़ते उनके खेमे के नेता!

रामगोपाल जाट "मछली जल की रानी है, जीवन उसका पानी है, हाथ लगाओ डर जाएगी, बाहर निकालो मर जाएगी......"
- Advertisement -