क्या यह सही है कि समय के साथ भारत में कमजोर पड़ रहा है जानलेवा कोरोना?

जयपुर।

भारत समेत संपूर्ण विश्व में कोरोनावायरस के केस बढ़ते ही जा रहे हैं, किंतु सुखद समाचार यह है कि इसकी मारक क्षमता कम हो रही है।

भारत में इसके आधे से अधिक मरीज ठीक हो गए हैं। रविवार को ठीक होने की दर 51% थी, जो सोमवार को बढ़कर 52% हो गई।

पूरी दुनिया में कोरोनावायरस ओं के ठीक होने की दर करीब 55% है, जबकि मृत्यु दर कम होकर 5.14% रह गई है। भारत में मृत्यु दर और बहुत कम मात्र 0.029% है।

पूरी दुनिया में पुष्ट केसों की संख्या बढ़कर करीब 80 लाख हो चुकी है, जबकि इनमें से 41 लाख से ज्यादा मरीज ठीक हो गए हैं।

दुनिया में कुल 436000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। भारत में पिछले 24 घंटे में 11500 से ज्यादा रोगी सामने आए हैं ल, जिसमें कुल 332000 केस शामिल हो चुके हैं।

एक लाख से ज्यादा मरीज अस्पताल से अपने घर चले गए। 153000 मरीजों का अस्पताल में इलाज चल रहा है। पिछले 24 घंटे में हुई करीब 326 मौतों के साथ मरने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 9900 से अधिक हो चुकी है।

सोमवार को सुबह 9:00 बजे समाप्त हुए 24 घंटे में इस बीमारी के लिए 1.16 लाख टेस्ट किए गए हैं। इस दिन से पूर्व के दिन डेढ़ लाख रिकॉर्ड जांच हुई थी। जांचों की कमी का कारण रविवार को स्टाफ का छुट्टी आ जाना रहा है।

देश में अब तक कुल 57.74 लाख जांच हो चुकी हैं। जिन राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में ठीक हो जाने वाले मरीज 50% से अधिक हैं, उनमें बिहार, चंडीगढ़, गुजरात, हिमाचल प्रदेश, झारखंड, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, उड़ीसा, पंजाब, राजस्थान, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश और झारखंड हैं।

यह भी पढ़ें :  Video: SMS अस्पताल में रोबोट करेंगे कोरोना पीड़ितों की देखभाल, ऐसा करने वाला देश का पहला अस्पताल होगा

महाराष्ट्र में अभी भी पुष्ट केसों की संख्या सर्वाधिक है। वहां पर 101000 की पुष्ट केस हो चुके हैं, जबकि दिल्ली में 16000 केसों में से करीब 1340 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि कुल 24 हज़ार से ज्यादा लोग अस्पताल में एडमिट हैं।

गुजरात में कुल 23501 हो चुके हैं, यहां पर 1500 के करीब लोगों की मौत हो चुकी है तथा 5800 लोगों का इलाज चल रहा है।

गोवा में एक समय कोई कोरोनावायरस नहीं थे, पर अब वहां पर भी 490 केस है, लेकिन एक भी मृत्यु नहीं हुई है।

जम्मू कश्मीर में 2389 मरीज ठीक हो गए हैं। 59 लोगों की मौत हो गई है और 2593 मरीजों का अस्पताल में इलाज चल रहा है।

लद्दाख में एक मृत्यु हुई है, 80 ठीक हो गए हैं, जबकि 468 मरीजों का इलाज चल रहा है।

मध्य प्रदेश में 459 मरीज मर गए हैं, 6677 मरीजों की संख्या 10800 तथा 26 अस्पतालों में भर्ती हैं।

राजस्थान में मौतों की संख्या होने वाले मरीजों की संख्या 9600 के आसपास है। कुल की तादाद 12700 है तथा 2740 मरीज अस्पताल में एडमिट हैं।

तमिलनाडु में कुल केस 44661 गए हैं, 435 की मौत हो गई है तथा 19679 लोग अभी भी अस्पतालों में हैं।

उत्तर प्रदेश में कुल 13650 लोगों में से 399 की मौत हुई है और ठीक होने वाले मरीजों की संख्या 8268 है, तथा 4948 लोगों का इलाज किया जा रहा है।

इसी तरह से पश्चिम बंगाल में कुल 11087 मरीजों में से 475 की मौत हो चुकी है, 5060 लोग ठीक हो चुके हैं और 5552 लोगों का इलाज चल रहा है।

यह भी पढ़ें :  एक दशक में किसानों की आय 1.7 गुना बढ़ी, 450 स्टार्टअप भारत में