इंडियन आर्मी ने चीन और पाकिस्तान को एक साथ पटखनी देने के लिए बनाया प्लान, आप भी ज्वाइन कर सकते हैं भारतीय सेना

नेशनल दुनिया, नई दिल्ली।

अमेरिका और इजरायल के बेस पर भारतीय सेना ने भी अब देश के प्रत्येक नागरिक को आर्मी जॉइन करने का अवसर प्रदान किया है।

चीफ ऑफ डिफेंस विपिन सिंह रावत के प्रस्ताव पर सेना काम कर रही है। जिसके अनुसार देश के प्रत्येक नागरिक को “टूअर ऑफ ड्यूटी” के नाम से “शार्ट सर्विस कमीशन” दिया जा सकता है, जिसकी अवधि कम से कम 3 वर्ष होगी।

इंडियन आर्मी के प्रवक्ता ने इस बात की पुष्टि की है। उनका कहना है कि भारतीय सेना इजरायल और अमेरिका की तर्ज पर इस तरह की तैयारी कर रही है, ताकि देश के प्रत्येक नौजवान को सेना में शामिल होने का अवसर मिल सके।

आपको बता दें कि भारतीय सेना में ‘शार्ट सर्विस कमीशन” सबसे पहले केवल 5 वर्ष के लिए शुरू किया गया था, लेकिन बाद में इस को बढ़ाकर 10 वर्ष कर दिया गया।

वर्तमान में “शार्ट सर्विस कमीशन” की अवधि 10 वर्ष है, लेकिन अब भारतीय सेना देश के प्रत्येक नागरिक को देश के प्रत्येक युवा को सेना में शामिल होने का अवसर प्रदान कर रही है।

खास बात यह है कि सेना में शामिल होने वाले व्यक्ति को बिल्कुल भारतीय सेना की तर्ज पर ट्रेनिंग दी जाएगी। उसके बाद में समस्त कागजी कार्रवाई पूरी करने के बाद यदि कोई चाहेगा तो वह पूर्णकालिक सर्विस भी कर सकता है।

भले ही इंडियन आर्मी टूअर ऑफ सर्विस के नाम पर इस को शुरू कर रही हो, लेकिन माना जा रहा है कि पाकिस्तान और चीन के साथ एक साथ युद्ध की स्थिति से निपटने के लिए इंडियन आर्मी ने तैयारी शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें :  चीन को धमकी के बाद अपने वीरों से मिले मोदी, कही ये बड़ी बातें-

भारतीय सेना के इस प्लान को अगर केंद्र सरकार मंजूरी दे देती है तो यह एक ऐतिहासिक कदम होगा। उसके बाद भारत में भी इजरायल और अमेरिका की तरह देश के प्रत्येक नागरिक को सेना में शामिल होने का अवसर मिल सकेगा।

सेना के अधिकारियों का कहना है कि भारतीय सेना अपने कुनबे का विस्तार करना चाहती है और देश के बेस्ट टैलेंट को अपने साथ शामिल करना चाहती है। इसको देखते हुए यह कदम उठाया जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि भारतीय सेना लंबे समय से उच्च अधिकारियों की कमी से जूझ रही है। यदि शार्ट सर्विस कमीशन की अवधि और देश के हर नागरिक को सेना में जाने का अवसर प्रदान किया जाता है तो अधिकारियों की कमी को दूर किया जा सकता है।