नोएडा-में-5-और-संक्रमित-मिले,-डीएम-का-आदेश,-किराया-वसूलने-वाले-मकान-मालिकों-को-होगी-जेल

गौतमबुद्ध नगर, 28 मार्च (आईएएनएस)। राष्ट्रीय राजधानी से सटे उत्तरप्रदेश के नोएडा-ग्रेटर नोएडा शहरों में शनिवार को 5 और कोरोना संक्रमित मिल गए। हर दिन बढ़ रहे कोरोना पीड़ितों और महामारी से पैदा हुई आमजन की मुसीबतों के मद्देनजर जिला प्रशासन ने कई कठोर कदम भी शनिवार को उठाए। जिलाधिकारी ने एक आदेश जारी कर कहा है कि, कोई भी मकान मालिक अगर विपदा की इस घड़ी में किरायेदार से भाड़े/किराये की वसूली और फिर वसूली की कोशिश भी करता पाया गया, तो उसे एक साल की जेल होना तय है।
कोरोना और उसके बाद देश में घोषित/लागू किये गये लॉकडाउन को लेकर अफरा-तफरी मची। लॉकडाउन के चलते सबसे ज्यादा मुसीबत दूर-दराज से मेहनत करके खाने-कमाने राष्ट्रीय राजधानी में पहुंचे लोगों की है। एक तो दो जून की रोटी का जुगाड़ खत्म हो गया, दूसरे गांव-देहात में किराये के मकानों में रहने के बदले किराया चुकाने की चिंता है।

इन्हीं तमाम परेशानियों के मद्देनजर शनिवार को गौतमबुद्ध नगर जिले के डीएम बी.एन. सिंह ने एक नया आदेश जारी कर कर दिया। जारी आदेश में गौतमबुद्ध नगर के सभी मकान मालिकों को हिदायत दी गयी है कि, कोई भी मकान मालिक किसी भी किरायेदार से किराया नहीं लेगा। अगर कोई मकान मालिक ऐसा करता हुआ मिला तो उसे गिरफ्तार करके एक साल के लिए जेल में डाल दिया।

डीएम के इस आदेश के कुछ देर बाद ही इक्का-दुक्का मालिक सामने निकल कर आये। इन मकान मालिकों ने ऐलान कर दिया कि वे किसी भी किरायेदार से किराया देने के लिए नहीं कहेंगे। न ही किसी किरायदार से किराया वसूलेंगे।

डीएम की इस सख्ती के तत्काल बाद ही संगीता सिंह नाम की कुलेसरा (ग्रेटर नोएडा) गांव निवासी मकान मालकिन ने जिला प्रशासन को सूचना दी कि, उसे इलाके में दो मकान हैं। दोनो में ही किरायदार रह रहे हैं। उसने सभी किरायेदारों को बता दिया है, कि उन्हें हाल-फिलहाल परेशानी के इस दौर में कोई किराया नहीं देना है।

उधर शनिवार को जिला प्रशासन ने पांच और कोरोना मरीजों के मिलने की पुष्टि की है। यह पांचों संदिग्ध नोएडा और ग्रेटर नोएडा शहर में मिले हैं। इन पांच में से एक मामला नोएडा के सेक्टर-44 सी ब्लाक में स्थित एक मकान में सामने आया है। उक्त मरीज जिस मकान में मिला उसे अस्थाई रुप से सील कर दिया गया है। जिला प्रशासन के मुताबिक शहर में अब तक 23 संक्रमित मरीज मिल चुके हैं। इनकी युद्ध स्तर पर आगे भी तलाश जारी है।

–आईएएनएस

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर लाइक और Twitter, YouTubeपर फॉलो करें.