मनरेगा में 5 करोड़ लोगों को 182 की जगह 202 मिलेंगे

नई दिल्ली।
केंद्र सरकार ने महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार योजना के तहत अब 182 रुपयों की जगह 202 रुपये मिलेंगे। इसके चलते देश के 5 करोड़ लोगों को फायदा होगा।

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने जानकारी देते हुए बताया कि इसके जरिये सभी नरेगा कर्मचारियों को बैंक खातों में पैसा ट्रांसफर किया जाएगा। इससे 5 करोड़ लोगों को फायदा होगा।

34 लाख स्वास्थ्य कर्मियों को 50 लाख रुपये का स्वास्थ्य बीमा मिलेगा। इसमें 12 लाख डॉक्टर और 22 लाख अन्य स्वास्थ्य कर्मियों को बीमा मिलेगा। ये सभी कोरोना वायरस से जूझ रहे मरीजों की सेवा में लगे हैं।

किसानों को तीन माह तक हर महीने 2000 रुपये मिलेंगे। इसकी पहली किस्त अप्रैल के पहले सप्ताह में जारी कर दी जाएगी। इससे देश के 8.69 लाख किसानों को राहत मिलेगी। ये पैसा भी उनके बैंक खातों में जाएगा।

इसी तरह से उज्जवला योजना के तहत देश की 8.3 करोड़ महिलाओं को अगले तीन माह तक सिलेंडर मुफ्त दिए जाएंगे। सभी कनेक्शन सरकार ने उज्जवला योजना के तहत फ्री दिये थे।

इसी तरह से देश के कर्मचारियों और निजी क्षेत्र में कार्यरत कर्मचारियों को भी भविष्य निधि का अपना 12 प्रतिशत हिस्सा जमा नहीं कराना होगा। साथ कंपनी को भी 12 फीसदी नहीं जमा कराना है। दोनों का 24 फीसदी रुपया सरकार जमा कराएगी। इससे 80 लाख कर्मचारी और 4 लाख कंपनियां लाभान्वित होंगी।

4.50 करोड़ निजी संगठित क्षेत्र के कर्मचारियों को अपने 75 प्रतिशत भविष्य निधि पैसे की आंशिक निकासी की अनुमति प्रदान की है। हालांकि, यह रुपया तीन माह की तनख्वाह से अधिक नहीं होना चाहिए।

यह भी पढ़ें :  Video: 51 करोड़ पशुओं के लिए मोदी सरकार का बड़ा प्लान