उप्र-:-कोरोना-संकट-में-जनप्रतिनिधियों-ने-बढ़ाए-मदद-के-हाथ

लखनऊ, 24 मार्च । कोरोनावायरस संकट में अब जनप्रतिनिधियों ने मदद के हाथ बढ़ाए हैं। उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या ने एक माह का वेतन और अपनी निधि से एक करोड़ रुपये मास्क, सैनिटाइजर, थर्मल स्कैनर, दवाइयां व अन्य समना खरीदने के लिए दिए हैं।

केशव प्रसाद अपनी सरकार में पहले ऐसे मंत्री हैं, जिन्होंने अपनी निधि से मुख्यमंत्री कोष में मदद दी है। इसी तरह अम्बेडकर नगर से सांसद रितेश पाण्डेय ने सांसद निधि से 50 लाख रुपये देने की पेशकश की है। उन्होंने इस संबंध में अम्बेडकर नगर व अयोध्या के डीएम को पत्र भी लिखा है।

पूर्व केन्द्रीय मंत्री व मिर्जापुर की सांसद अनुप्रिया पटेल ने 25 लाख रुपये देने का एलान किया है। उन्होंने जिलाधिकारी को लिखे पत्र में कहा है कि कोरोना से बचाव के लिए मास्क, सैनिटाइजर, दवा उपलब्ध कराने में सांसद निधि से धनराशि अविलम्ब स्वीकृत कराएं। भविष्य में और धन की अवश्यकता पड़ने पर तुरंत अवगत भी कराएं।

कांग्रेस (Congress) के एमएलसी दीपक सिंह ने विधायक निधि से 10 लाख रुपये की मदद देने की घोषणा की है। उन्होंने सीडीओ को पत्र लिखकर सभी विकास खंडों में समान रूप से मास्क और सैनिटाइजर बांटने का आग्रह किया है।

इसी तरह बस्ती से भाजपा (BJP) सांसद हरीश द्विवेदी ने भी डीएम को पत्र लिखकर 20 लाख रुपये देने को कहा है। उन्होंने अपने पत्र में वायरस से रोकथाम के लिए मास्क, सैनिटाइजर, दवा व अन्य अवाश्यक सामग्री उपलब्ध कराने के लिए अविलम्ब 20 लाख रुपये मंजूर करने को कहा है।

इसके अलावा चंदौली से सैयदराज विधानसभा के विधायक सुशील सिंह ने 20 लाख रुपये, समाजवादी पार्टी के एमएलसी हीरालाल यादव ने 25 लाख रुपये तुरंत अवमुक्त कराने को सीडीओ को पत्र लिखा है।

–आईएएनएस

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर लाइक और Twitter, YouTubeपर फॉलो करें.