5 बजे धन्यवाद ज्ञापन के बाद मोदी ने क्यों कहा ‘यह लंबी लड़ाई है?’

रामगोपाल जाट

कोरोना वायरस के चलते भारत में अब तक 383 लोग पॉजिटिव हो चुके हैं जबकि 7 लोगों की मौत हो चुकी है, पूरे देश में राजस्थान, उड़ीसा, पंजाब, आंध्र प्रदेश के अलावा देशभर के केंद्र तरफ सरकार की तरफ से 75 जिलों को भी लॉक डाउन कर दिया गया है।

केंद्र सरकार की तरफ से जिन जिलों को लॉक डाउन किया गया है, उनमें दिल्ली और मुंबई जैसे बड़े शहर भी शामिल हैं। इसके अलावा राजस्थान की राजधानी जयपुर और उत्तर प्रदेश के योगी आदित्यनाथ सरकार ने भी यूपी के 15 जिलों के लॉक डाउन किया है।

रविवार को सुबह 7:00 बजे से लेकर रात 9:00 बजे तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील पर जनता करके रखा गया। इस दौरान 5:00 बजे पूरे देश भर में लोगों ने चिकित्सा कर्मियों, मीडिया कर्मियों, पुलिसकर्मियों समेत जो जरूरी सेवाओं में लगे हुए हैं, उन सभी कर्मचारियों को धन्यवाद ज्ञापित करने के लिए खिड़की दरवाजों और छतों पर चढ़कर ताली बजाकर धन्यवाद ज्ञापित किया है।

हालांकि, इसके तुरंत बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने फेसबुक पेज और ट्विटर पर कमेंट करके लोगों की धड़कनें तेज कर दी है। प्रधानमंत्री ने यह लिखा है-

‘आज का #JantaCurfew भले ही रात 9 बजे खत्म हो जाएगा, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि हम सेलिब्रेशन शुरू कर दें। इसको सफलता न मानें। यह एक लम्बी लड़ाई की शुरुआत है। आज देशवासियों ने बता दिया कि हम सक्षम हैं, निर्णय कर लें तो बड़ी से बड़ी चुनौती को एक होकर हरा सकते हैं।’

“केंद्र सरकार और राज्य सरकारों द्वारा जारी किए जा रहे निर्देशों का जरूर पालन करें। जिन जिलों और राज्यों में Lockdown की घोषणा हुई है, वहां घरों से बिल्कुल बाहर न निकलें। इसके अलावा बाकी हिस्सों में भी जब तक बहुत जरूरी न हो, तब तक घरों से बाहर न निकलें। #JantaCurfew”

यह भी पढ़ें :  Rafale deal: सुप्रीम कोर्ट के 3 जजों की बेंच करेगी सुनवाई, पुनर्विचार याचिका स्वीकार

एक तरफ प्रधानमंत्री ने लंबी लड़ाई का ऐलान किया है तो दूसरी तरफ इटली जैसे विकसित देश में मरने वालों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। इटली में अब तक छह हजार के करीब लोगों की मौत हो चुकी है।

बताया जा रहा है कि कोरोनावायरस की कारण इटली तीसरी स्टेज को पार कर चुका है, जबकि भारत तीसरे स्टेज के मुहाने पर खड़ा है। ऐसे में प्रधानमंत्री का लंबी लड़ाई के लिए तैयार रहने का आह्वान भारत के लोगों को आशंकित कर रहा है।

पूरी दुनिया की बात की जाए तो खबर लिखे जाने तक कोरोनावायरस के पॉजिटिव मरीजों की संख्या 311000 से अधिक हो चुकी है, जबकि इस दौरान 13403 लोगों की मौत हो चुकी है।

भारत में कोरोना वायरस से पीड़ित मरीजों की संख्या 386 है और मृतकों की संख्या 7 सबसे ज्यादा पीड़ित महाराष्ट्र से सामने आए हैं। इसके अलावा उत्तरी पूर्वी राज्यों में भी अब कोरोना वायरस के लक्षण दिखाई देने लगे हैं।