नरेंद्र मोदी ने सोशल मीडिया पर मचाया हाहाकार, आधी रात तक चलता रहा ट्विटर पर ट्रेंड

नई दिल्ली।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक, इंस्टाग्राम, ट्विटर और यूट्यूब छोड़ने की पहल की तो सोशल मीडिया पर ही आधी रात तक हाहाकार मचा रहा।

नरेंद्र मोदी के ट्विटर पर करीब 54 मिलियन समर्थक हैं, जबकि फेसबुक पर 45 मिलियन से अधिक समर्थक मौजूद हैं। इसी तरह से यूट्यूब पर भी साढे़ 4 मिलियन से अधिक सब्सक्राइबर हैं। इसी तरह से इंस्टाग्राम पर 35 मिलियन से ज्यादा लोग जुड़े हुए हैं।

इंस्टाग्राम के मामले में नरेंद्र मोदी दुनिया के पहले ऐसे राजनेता हैं, जिनके 35 मिलियन से ज्यादा समर्थक हैं। इसी तरह से अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के 73 तमिलियन के मुकाबले नरेंद्र मोदी 54 मिलियन समर्थकों के साथ ट्विटर पर बहुत बड़े राजनेता हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा सोशल मीडिया अकाउंट्स छोड़ने की जानकारी देने के बाद सोशल मीडिया पर ही आधी रात तक हाहाकर मचा रहा। समर्थकों ने नरेंद्र मोदी से सोशल मीडिया नहीं छोड़ने की अपील की। इसके साथ ही कई लोगों ने कहा कि अगर मोदी ने सोशल मीडिया छोड़ दिया तो वह लोग ही सोशल मीडिया से विदा हो जाएंगे।

दूसरी तरफ कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और सांसद राहुल गांधी ने लिखा कि सोशल मीडिया नहीं नफरत छोड़िए। इसके बाद राहुल गांधी ट्रॉल हुए और लोगों ने उनको खूब भला बुरा कहा।

सबसे गंभीर बात यह है कि सोशल मीडिया छोड़ने की नरेंद्र मोदी के विचार पर ही सोशल मीडिया कंपनियों में हड़कंप मच गया है। माना जा रहा है कि टि्वटर, फेसबुक, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर बड़े पैमाने पर भारत में रहने वाले और विदेशों में रहने वाले नरेंद्र मोदी के समर्थक छोड़कर दूर हट सकते हैं।

यह भी पढ़ें :  बेनीवाल ने मोदी के सामने 3 विधायक और एक सांसद के दम पर फिर दिखाई ताकत

जानकारों की मानें तो प्रधानमंत्री का यह फैसला पिछले दिनों दिल्ली में हुए सांप्रदायिक दंगों को लेकर हो सकता है। क्योंकि इन दंगों के दौरान सबसे ज्यादा उपद्रवी सोशल मीडिया की वजह से ही सामने आया है। इसलिए उन्होंने इस प्लेटफार्म को छोड़ने का विचार बनाया है।

बहरहाल, प्रधानमंत्री के सोशल मीडिया छोड़ने के कारण कोई भी हो, किंतु कम से कम उनके समर्थकों और फेसबुक, इंस्टाग्राम, टि्वटर और यूट्यूब कंपनी में काम करने वाले कर्मचारियों की दिलों की धड़कने तेज हो गई हैं।

क्योंकि अगर मोदी सोशल मीडिया छोड़ते हैं, तो माना जा सकता है कि भारत में करीब 10 से लेकर 15 करोड़ लोग इससे दूर हो सकते हैं, जो इन कंपनियों के लिए बहुत बड़ा झटका साबित होगा।

प्रधानमंत्री के सोशल मीडिया छोड़ने के विचार के बाद ट्विटर पर टॉप 3 ट्वीट में केवल नरेंद्र मोदी ट्रेन कर रहे थे। जिसमें सबसे ऊपर #NoSir, दूसरे नंबर पर #NarendraModi और तीसरे नंबर पर #Modiji थे।