शाहीन बाग धरने में शामिल महिलाओं को दिए जा रहे हैं ₹500, वायरल वीडियो में जानिए क्या है सच?

नई दिल्ली।

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के द्वारा नागरिकता संशोधन कानून पारित किए जाने के बाद दिल्ली की एक इलाके में शाहीन बाग धरना शुरू किया गया, उसको अभी 75 दिन से ऊपर हो चुके हैं।

इस दौरान इस धरने को लेकर कई तरह की बातें सामने आई हैं। सबसे अधिक चौंकाने वाली बात आई है कि धरने में शामिल होने के लिए महिलाओं को प्रतिदिन ₹500 दिए जा रहे हैं।

यही है वायरल वीडियो, आप भी जांचिए इसका सच क्या है?

रुपए देने के अब तक केवल दावे किए जा रहे थे, लेकिन पहली बार इस बात का वीडियो सामने आया है, जिसमें एक सड़क के ऊपर लाइन में लगी महिलाओं को कुछ लोगों के द्वारा रुपए देकर विदा किया जा रहा है।

मुस्लिम समाज की बुर्का पहने दर्जनों महिलाएं कतार बद्ध आगे बढ़ रही हैं और तीन-चार लोगों के द्वारा उनकी पहचान करके गिनती करते हुए एक एक महिला को ₹500 के नोट दिए जा रहे हैं। इस दौरान सदस्यों की संख्या को लेकर कुछ तकरार भी होती है।

यह वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें दावा किया जा रहा है कि शाहीन बाग का यही सच है। महिलाओं को ₹500 बांट कर उन्हें धरने में शामिल किया जा रहा है और यह सब अलग-अलग पारियों में हो रहा है।

यह भी पढ़ें :  किसानों को मोदी सरकार ने दी बड़ी राहत: DAP का बैग 2400 के बजाए केवल 1200 रुपये में मिलेगा