24 C
Jaipur
रविवार, सितम्बर 27, 2020

सीएए पर लविवि ने नए विवाद को जन्म दिया, विपक्षी दलों में उबाल

- Advertisement -
- Advertisement -

लखनऊ, 25 जनवरी (आईएएनएस)। नागरिकता संशोधन कानून को लेकर जहां एक ओर पूरे देश में घमासान मचा हुआ है, वहीं लखनऊ विश्वविद्यालय ने सीएए पर पाठ्यक्रम शुरू करने का प्रस्ताव तैयार कर एक नए विवाद को जन्म दे दिया है। विपक्षी दलों में इसे लेकर उबाल आ गया है।
लखनऊ विश्वविद्यालय के राजनीति शास्त्र विभाग ने सीएए को पाठ्यक्रम में शामिल करने का प्रस्ताव तैयार किया है। विभाग के अनुसार, सीएए अब एक कानून बन चुका है, जिसे देखते हुए यह पहल की गई है।

विश्वविद्यालय के प्रवक्ता दुर्गेश श्रीवास्व ने कहा कि सीएए को शामिल करने का अभी सिर्फ प्रस्ताव रखा गया है। किसी विषय को पाठ्यक्रम में शामिल करने के लिए उसे बोर्ड मीटिंग और कार्यपरिषद की सहमति की जरूरत होती है।

राजनीति शास्त्र विभाग की अध्यक्ष शशि पाण्डेय ने कहा कि संसद और नागरिकता के बारे में हम छात्रों को पढ़ाते हैं। अभी सीएए को पाठ्यक्रम का हिस्सा नहीं बनाया गया है। चूंकि, सीएए एक कानून का रूप ले चुका है, इसलिए इसकी जानकारी बच्चों को होनी जरूरी है। जब यह पाठ्यक्रम शामिल होगा तब जानकारी दी जाएगी। कश्मीर में अनुच्छेद 370 और सीएए जैसे हालिया कानूनी बदलाव हुए है, उस ²ष्टि से इसकी जानकारी आवश्यक है। हम भारतीय राजनीति के सारे समकालीन मुद्दों को पढ़ाते हैं।

लेकिन बसपा मुखिया मायावती को लखनऊ विश्वविद्यालय का यह कदम रास नहीं आ रहा है। उन्होंने कहा, सीएए पर बहस आदि तो ठीक है, लेकिन कोर्ट में इसपर सुनवाई जारी रहने के बावजूद लखनऊ विश्वविद्यालय द्वारा इस अतिविवादित व विभाजनकारी नागरिकता कानून को पाठ्यक्रम में शामिल करना पूरी तरह से गलत व अनुचित है। बसपा इसका सख्त विरोध करती है तथा यूपी में सत्ता में आने पर इसे अवश्य वापस ले लेगी।

सपा के अध्यक्ष अखिलेश यादव को भी यह मंजूर नहीं है। उन्होंने कहा, सुनने में आया है कि लखनऊ विश्वविद्यालय के पाठ्यक्रम में सीएए को रखा जा रहा है। अगर यही हाल रहा तो शीघ्र मुखिया जी की जीवनी भी विश्वविद्यालय में पढ़ाई जाएगी और लेक्चर की जगह उनके प्रवचन होंगे और बच्चों की शिक्षा में उनकी चित्र-कथा भी शामिल की जाएगी।

कांग्रेस ने भी इस कदम पर आपत्ति उठाई है। पार्टी के प्रभारी (प्रशासन) सिद्घार्थ प्रिय श्रीवास्तव ने कहा, 1955 में नागरिकता कानून था। विवि ने अभी तक क्यों नहीं पढ़ाया है। अभी जब इस मामले में सरकार की ओर से कुछ तय नहीं है तो ये क्या पढ़ाएंगे। खाली अफवाह फैलाकर ताना-बाना खराब करने की कोशिश हो रही है।

भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता शलभमणि त्रिपाठी का कहना है कि विश्वविद्यालय क्या पढ़ाएगा, क्या नहीं, यह वही तय करेगा। यह राजनीतिज्ञों को नहीं तय करना है। समसमायिक मुद्दों की जानकारी बच्चों को होनी चाहिए। जो दल सीएए को लेकर घबराए हुए हैं, वे पहले सुप्रीम कोर्ट से मुंह की खा कर लौटे हैं। ऐसे लोगों को यह तय करने का अधिकार नहीं कि विवि क्या पढ़ाएगा।

आरएएस की छात्र शाखा अखिल विद्यार्थी परिषद सीएए के पक्ष में लगातार संगोष्ठी और पत्रक वितरण करके सीएए के फायदे कैंपस और विश्वद्यालयों को बताने में लगा हुआ है।

एबीवीपी के प्रांत संगठन मंत्री घनश्याम शाही का कहना है, सीएए और अन्य जो भी कानून हैं, यह सब समसमायिक हैं। इन्हें विश्विद्यालय में जरूर पढ़ाया जाना चाहिए। शिक्षण संस्थान शोध और खोजपरक चीजों के बारे में जानकारी देते हैं। उसी का यह भी हिस्सा है।

उत्तर प्रदेश राजर्षि टंडन मुक्त विश्वविद्यालय ने सीएए और अनुच्छेद 370 एवं धारा 35-ए पर सर्टिफिकेट कोर्स शुरू कर दिए हैं। इन कोर्स में प्रवेश भी शुरू हो चुका है। 12वीं पास कोई भी व्यक्ति या छात्र इन कोर्स में प्रवेश ले सकता है।

–आईएएनएस

- Advertisement -
सीएए पर लविवि ने नए विवाद को जन्म दिया, विपक्षी दलों में उबाल 2
Ram Gopal Jathttps://nationaldunia.com
नेशनल दुनिआ संपादक .

Latest news

तेलंगाना: हैदराबाद और आस पास के क्षेत्रों में भारी वर्षा

हैदराबाद, 26 सितम्बर (आईएएनएस)। हैदराबाद और तेलंगाना के कई हिस्सों में शनिवार को दूसरे दिन लगातार भारी वर्षा हुई, जिससे जन-जीवन प्रभावित हुआ है।राज्य...
- Advertisement -

उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था भगवान भरोसे : अखिलेश

लखनऊ 26 सितम्बर (आईएएनएस)। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने एक बार फिर कानून व्यवस्था को लेकर योगी सरकार पर निशाना...

सुशांत पर बनी फिल्म में नार्को अधिकारी की भूमिका निभाएंगे शक्ति कपूर

मुंबई, 26 सितंबर (आईएएनएस) बॉलीवुड अभिनेत्री श्रद्धा कपूर से शनिवार को सुशांत सिंह राजपूत की मौत के संभावित ड्रग्स एंगल में जांच के तहत...

आईपीएल-13 : हैदराबाद ने कोलकाता को दिया 143 रनों का लक्ष्य

अबू धाबी, 26 सितंबर (आईएएनएस)। सनराइजर्स हैदराबाद ने शनिवार को शेख जायेद स्टेडियम में खेले जा रहे आईपीएल-13 के मैच में कोलकाता नाइट राइडर्स...

Related news

प्रधान पिंकी चौधरी की अशोक को छोड़ नए प्रेमी के साथ भागने की अफवाह?

बाड़मेर। जिले के समदड़ी पंचायत समिति क्षेत्र से प्रधान पिंकी चौधरी के 1 महीने पहले अपने प्रेमी अशोक चौधरी के साथ भागने...

आईपीएल-13 : अबू धाबी में आज होगी कोलकाता और हैदराबाद की टक्कर

अबु धाबी, 26 सितंबर (आईएएनएस/ग्लोफैंस)। आईपीएल के 13वें सीजन के आठवें मैच में शनिवार को कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) की टक्कर सनराइजर्स हैदराबाद के...

जयपुर: प्रेम-प्रंसग में 23 वर्षीय छात्रा को दिन-दहाड़े चाकू मारा, फिर दागी तीन गोलियां

-युवक गिरफ्त में, फिलहाल पूछताछ जारीजयपुर। आदर्श नगर थाना इलाके में शनिवार सुबह सरेराह एक युवक ने प्रेम प्रंसग के चलते चाकू...

वसुंधरा राजे को उपाध्यक्ष बना राज्य से पूरी तरह बाहर ले गए हैं नड्डा

जयपुर/दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की नई टीम का ऐलान कर दिया गया है। राजस्थान से 5 लोगों...
- Advertisement -