महंगी हो सकती हैं बिस्कुट सहित 97 वस्तुएं

नई दिल्ली।

कस्टम ड्यूटी पर मिल रही छूट खत्म करने की तैयारी में सरकार.

एक ओर पेट्रोल-डीजल पर बढ़ते रेट ने आमजन को परेशान कर रखा है,वही ,अब दूसरी ओर खाद्य वस्तुओं के भी दाम बढ़ने वाले है।

जी हां, यदि आप भी विदेशी बिस्कुट और हेजलनट खाने के शौकीन हैं तो अब आपको इसके लिए ज्यादा पैसे खर्च करने पड़ सकते हैं।

अभी तक सरकार की ओर से ऐसी आयातित वस्तुओं पर कस्टम ड्यूटी से छूट मिलती थी। लेकिन अब जल्द ही सरकार इन्हें खत्म करने की तैयारी में है।
दरअसल, सरकार कई दशकों पहले से चली आ रही टैक्स छूट की समीक्षा करने जा रही है।

ऐसे में करीब 97 आयातित वस्तुओं पर मिल रही टैक्स छूट खत्म की जा सकती है।

सरकार विदेश से आयातित अटलांटिक सेल्मॉन, हेजलनट, ड्यूरियन से लेकर कुछ मीठे विदेशी बिस्कुटों पर मिल रही छूट को खत्म कर सकती है।

सरकार ने ऐसे 97 आयातित आइटम्स पर मिल रही कस्टम छूट हटाने के लिए प्रस्ताव किया है। सरकार से एक ओर जहां आयातित वस्तुओं की कीमतों में इजाफा हो सकता है।

वहीं, इससे घरेलू इंडस्ट्री को भारी फायदा होने की उम्मीद भी की जा रही है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इस साल बजट पेश करते हुए मौजूदा टैक्स सिस्टम को सुधारने के लिए कई दशकों पुरानी टैक्स रियायतों की समीक्षा करने की बात कही थी।

इससे पहले सरकार ने पिछले साल ऐसे की करीब 80 आउटडेटेड रियायतों को समाप्त कर दिया था।
वित्त मंत्री ने कहा था कि सरकार करीब 400 पुरानी छूटों की समीक्षा कर रही है।
1 अक्टूबर  2021 से सरकार नए सिरे से समीक्षा करने जा रही है।

यह भी पढ़ें :  सीजेआई दीपक मिश्रा होंगे देश के पहले लोकपाल!

सरकारी की समीक्षा सूची में कई दवाएं, गर्भनिरोधक गोलियां, आइल सीड्स, फलों और सब्जियों के बीज, अपहोल्स्ट्री फैब्रिक , टैक्सटाइल, पावर, ऑइल एंड गैस,इलेक्ट्रॉनिक्स, टेलिकाम उद्योगों में प्रयोग आने वाली कई प्रकार की मशीनरी, कंपोनेंट्स, पर भी छूट को जल्द ही खत्म किया जा सकता है।