नोटा में सबसे ज्यादा वोट तो रद्द होगा सीट का चुनाव

नई दिल्ली। चुनाव आयोग के द्वारा जब चुनाव के दौरान नोटा के प्रयोग की अनुमति दी गई थी, तब यह किसी ने नहीं सोचा था कि कई सीटों पर प्रत्याशी से ज्यादा नोटा पर वोट मिल जाएंगे।

अब सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाई गई है कि अगर किसी भी सीट पर चुनाव हो रहे हैं और वहां पर जीतने वाले प्रत्याशी से भी ज्यादा नोटा को वोट मिलते हैं तो वहां का चुनाव रद्द किया जाए।

सुप्रीम कोर्ट ने केस को लेकर केंद्र सरकार को नोटिस जारी किया है और पूछा है कि क्या सरकार इस तरह का कोई कानून बनाने पर विचार कर रही है या फिर ऐसा किया जाना सही है।

अगर केंद्र सरकार के द्वारा नोटा के लिए इस तरह की प्रक्रिया के लिए कानून में संशोधन किया गया या फिर सुप्रीम कोर्ट के द्वारा कोई आदेश जारी किया गया तो आने वाले समय में सभी चुनाव में नोटा का महत्व बढ़ जाएगा।

इस कानून के बनने के बाद किसी भी जगह पर होने वाले मतदान के दौरान अगर सभी प्रत्याशियों को या फिर जीतने वाले प्रत्याशी से ज्यादा वोट नोटा को मिलते हैं तो वहां का चुनाव कब किया जाएगा और चुनाव दोबारा करवाया जाएगा।

यह भी पढ़ें :  महिलाओं की सुरक्षा के लिए पब्लिक ट्रांसपोर्ट में पैनिक बटन और VLTD हो अनिवार्य : डॉ. सोई