नेपाल, श्रीलंका में भी भाजपा की बनेगी सरकार, अब दोनों देश सफाई देते फिर रहे हैं

नई दिल्ली। त्रिपुरा से मुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता बिपल्लब देव के एक बयान के बाद नेपाल और श्रीलंका की राजनीति में तूफान खड़ा हो गया है।

हालात यहां तक पहुंच गए हैं कि नेपाल की सरकार के द्वारा बकायदा एक प्रेस नोट जारी करके उनके देश की स्थिति के बारे में सफाई दी गई है। दूसरी तरफ से लंका में भी विपक्षी दलों के द्वारा सरकार के ऊपर तमाम खबरों का खंडन करने के लिए दबाव बनाया जा रहा है।

दरअसल पिछले दिनों ही त्रिपुरा के मुख्यमंत्री विप्लब देव ने कहा था कि गृह मंत्री अमित शाह का निर्देश है आने वाले दिनों में नेपाल और श्रीलंका में भी भाजपा की सरकार बनाई जाएगी, इसके प्रयास शुभ हो चुके हैं।

त्रिपुरा के मुख्यमंत्री के इस बयान के बाद पड़ोसी दोनों देशों में राजनीतिक तौर पर बड़ी हलचल मची नेपाल के द्वारा अपनी तरफ से एक सरकारी बयान जारी किया गया, जिसमें कहा गया कि उनके देश में भाजपा की सरकार बनने का किसी तरह का कोई समझौता नहीं हुआ है।

इसी तरह से खबरें वायरल होने के बाद श्रीलंका की सरकार के ऊपर भी विपक्षी दलों की तरफ से लिखित में खंडन जारी करने के लिए दबाव बनाया जा रहा है। कहा जा रहा है कि श्रीलंका में भाजपा के नेता के इस बयान के बाद राजनीतिक तौर पर विवाद पैदा हो गया है।

यह भी पढ़ें :  जय श्रीराम नारे से चिढ़ने वाली ममता बनर्जी खुद सबसे बड़ा हिन्दू साबित करने में जुटी